नई दिल्ली: आईपीएल 2018 में पंजाब और चेन्नई के बीच खेले गए मैच में पंजाब ने 4 रन से जीत हासिल की. इस रोमांचक मुकाबले में चेन्नई के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने अंत तक लड़ते हुए शानदार बल्लेबाजी की. उन्होंने 44 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 79 रन बनाए. पंजाब ने पहले बल्लेबाज करते हुए चेन्नई को 198 रन का लक्ष्य दिया. इसके जवाब में चेन्नई 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 193 रन ही बना पायी. यह बेहद रोमांचक मैच रहा और आखिरी गेंद तक दर्शकों की सांसें थमीं रहीं.

पंजाब के दिए लक्ष्य को हासिल करने के लिए चेन्नई की तरफ से शेन वॉटसन और मुरली विजय ओपनिंग करने आए. इस दौरान मुरली 12 रन बनाकर एंड्रुय टाय की गेंद पर आउट हुए. वहीं वॉटसन 11 रन बनाकर मोहित शर्मा की गेंद का शिकार बने. सैम बिलिंग्स महज 9 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर पवेलियन लौटे.

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी को अपना आदर्श मानते हैं केन विलियमसन

इसके बाद कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी और अंबाती रायडू के बीच कुछ अहम रनों की साझेदारी बनी. इस दौरान रायडू 35 गेंदों में 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से 49 रन बनाकर आउट हो गए. वहीं रविन्द्र जडेजा 13 गेंदों में 19 रन बनाकर पवेलियन लौटे. अंत में महेन्द्र सिंह धोनी ने 44 गेंदों का सामना करते हुए 5 छक्कों और 6 चौकों की मदद से नाबाद 79 रन बनाए. हालांकि धोनी अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए.

दिल्ली को कोलकाता से मिलेगी कड़ी चुनौती, गौतम गंभीर इन खिलाड़ियों को देंगे प्लेइंग इलेवन में जगह

पंजाब की तरफ से गेंदबाजी करते हुए रविचन्द्रन अश्विन ने 4 ओवर में 32 रन देकर 1 विकेट लिया. बरिंदर सरन ने 4 ओवर में 37 रन दिए. हालांकि उन्हें एक भी विकेट नहीं मिल पाया. एंड्रुय टाय टीम के लिए काफी महंगे साबित हुए. उन्होंने 4 ओवर में 47 रन दिए. हालांकि 2 विकेट भी हासिल किए. मोहित शर्मा ने 4 ओवर में 47 रन देकर 1 विकेट लिया.

अर्धशतकीय पारी से विराट कोहली ने तोड़े कई बड़े रिकॉर्ड, ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बने

इससे पहले विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल (63) के बेहतरीन अर्धशतक और लोकेश राहुल (37) तथा मयंक अग्रवाल (30) की उपयोगी पारियों की मदद से किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नई के खिलाफ सात विकेट पर 197 रन का मजबूत स्कोर बना लिया. आईपीएल के 11वें संस्करण में अपना पहला मैच खेल रहे गेल ने आक्रामक अंदाज में खेलते हुए 33 गेंदों पर सात चौके और चार छक्कों की मदद से 63 रन बनाए. गेल ने 22 गेंदों में ही अपना अर्धशतक पूरा किया. लोकेश राहुल ने 37 और मयंक अग्रवाल ने 30 रन का योगदान दिया.

शिखर धवन ने किया बड़ा खुलासा, बताया अपना रिटायरमेंट प्लान

पंजाब की टीम एक समय 11.3 ओवर में दो विकेट पर 127 रन बनाकर मजबूत स्थिति में थी लेकिन इसके बाद मध्य ओवरों में लगातार अंतराल पर विकेट खोने के चलते टीम 197 रन तक ही पहुंच सकी. चेन्नई गेंदबाज के ताहिर ने 14वें ओवर की पहली और दूसरी गेंद पर लगातार दो विकेट लेकर पंजाब की रफ्तार को थाम दिया. ड्वेन ब्रावो ने आखिरी ओवर में मात्र चार रन ही दिए और एक विकेट भी हासिल किया.

पंजाब की तरफ से गेल के अलावा राहुल ने 22 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 37, मयंक ने 19 गेंदों पर एक चौके और दो छक्कों के सहारे 30, युवराज सिंह ने 13 गेंदों पर दो चौके और एक छक्के के दम पर 20, करुण नायर ने 17 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की बदौलत 29 और कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने 11 गेंदों पर एक छक्के की मदद से 14 रन बनाए. चेन्नई की तरफ से ताहिर ने 34 रन पर दो विकेट, ठाकुर ने 33 रन पर दो विकेट, हरभजन सिंह ने 41 रन पर एक विकेट, शेन वाटसन ने 15 रन पर एक विकेट और ब्रावो ने 37 रन पर एक विकेट हासिल किया.