भारत और श्रीलंका के बीच शनिवार से पाल्लेकल में शुरू हुए तीसरे टेस्ट में दोनों ही टीमों ने चाइनामैन गेंदबाज को मौका दिया है. भारत ने जहां चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को मौका दिया है तो वहीं श्रीलंका ने लक्षण संदकन को उतारा है.

एक ही टेस्ट मैच में दो चाइनामैन गेंदबाजों के एकदूसरे के खिलाफ खेलने का रिकॉर्ड आखिरी बार 13 साल पहले 2004 में हुआ था. इससे पहले 2004 में केपटाउन टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका के लिए चाइनामैन गेंदबाज पॉल एडम्स और वेस्टइंडीज के लिए चाइनामैन गेंदबाज डेव मोहम्मद खेले थे.

कुलदीप यादव ने इसी साल मार्च में धर्मशाला टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था. कुलदीप ने अपनी पहली ही टेस्ट पारी में ऑस्ट्रेलिया के चार विकेट झटकते हुए यादगार डेब्यू किया था. कुलदीप यादव ने अब तक एक ही टेस्ट मैच खेला है और 4 विकेट झटके हैं. पाल्लेकल टेस्ट उनका विदेशी धरती पर पहला टेस्ट है.

वहीं 26 वर्षीय श्रीलंकाई चाइनामैन गेंदबाज लक्षण संदकन ने पिछले साल जुलाई में इसी मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था. संदकन ने अपने पहली ही मैच में 7 विकेट झटकते हुए श्रीलंका को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यादगार जीत दिलाई थी. लक्षण इस मैच से पहले अपने 5 टेस्ट मैचों में अब तक 15 विकेट ले चुके हैं.

टीम इंडिया तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के गॉल और कोलंबो टेस्ट जीतकर पहले ही सीरीज पर 2-0 से कब्जा जमा चुकी है. भारत की नजरें तीसरा टेस्ट जीतकर विदेशी धरती पर पहली बार क्लीन स्वीप करने पर होगी.

(अभिषेक पाण्डेय द्वारा लिखित)