21 वें कॉमनवेल्थ गेम्स में शनिवार को मैरीकॉम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए गोल्ड मेडल जीता. 45-48 किग्री कैटेगरी में उन्होंने भारत को यह सफलता दिलाई है. पांच बार की वर्ल्ड चैंपियन ने इस बार भी अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा.

पहली और संभवत: आखिरी बार राष्ट्रमंडल खेलों में भाग ले रही 35 बरस की मेरीकोम ने महिलाओं के 48 किलो फाइनल में उत्तरी आयरलैंड की क्रिस्टीना ओहारा को 5.0 से हराया. ओहारा के पास मेरीकोम के दमदार पंच और फिटनेस का जवाब नहीं था. मेरीकोम ने मुकाबले को लगभग एकतरफा बना दिया. पांच महीने पहले एशियाई चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली मेरीकोम ने जनवरी में इंडिया ओपन जीता था. उन्होंने बुल्गारिया में स्ट्रांजा मेमोरियल टूर्नामेंट में भी रजत पदक जीता था.

ओलंपिक ब्रॉन्ज विजेता मैरीकॉम ने शुरू से ही मैच में पकड़ बनाए रखा. बता दें कि वह इससे पहले कॉमनवेल्थ गेम्स में कभी कोई पदक नहीं जीत पाई थीं.

मैरीकॉम के इस शानदार प्रदर्शन के बाद भारत के खाते में अब 18 गोल्ड आ गए हैं. वहीं 11 सिल्वर और 14 ब्रॉन्ज मेडल भी आ गए हैं. इस तरह कुल पदकों की संख्या अब 43 हो गई है.