लाहौर। अपने बेहतरीन ऑलराउंडर खेल के दम पर पाकिस्तान ने शुक्रवार को तीसरे और अंतिम टी-20 मैच में विश्व एकादश को 33 रनों से हरा दिया. इसी के साथ पाकिस्तान ने तीन टी20 मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम करते हुए लंबे अरसे बाद घर में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी का जश्न जीत के साथ मनाया है.

टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी पाकिस्तानी टीम ने अहमद शहजाद की 55 गेंदों में 89 और बाबर आजम की 31 गेंदों में 49 रनों की तूफानी पारियों के दम पर निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 183 रन बनाए. विश्व एकादश पूरे ओवर खेलने के बाद आठ विकेट के नुकसान पर 150 रन ही बना सकी. विश्व एकादश के लिए डेविड मिलर और तिसारा परेरा ने 32-32 रनों का योगदान दिया.

चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम को अच्छी शुरुआत नहीं मिली. सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल 15 के कुल स्कोर पर उस्मान खान की गेंद पर बोल्ड हो गए. टीम के 15 रनों में से 14 रन अकेले इकबाल के थे जो उन्होंने 10 गेंदों में तीन चौकों की मदद से बनाए थे. इकबाल के जाने के बाद दूसरे ओपनिंग बल्लेबाज हाशिम अमला ने कुछ अच्छे शॉट्स लगाए, लेकिन दूसरे छोर पर खड़े बेन कटिंग पांच रनों का योगदान देकर 41 के कुल स्कोर पर पविलियन लौट लिए. इसी स्कोर पर अमला की 12 गेंदों में चार चौकों की मदद से खेली गई 21 रनों की पारी का अंत रन आउट के तौर पर हुआ.

फाफ डु प्लेसिस (13) और जॉर्ज बेले (3) भी 67 के कुल स्कोर तक आउट हो गए थे. पांच विकेट खो चुकी विश्व एकादश संकट में थी. यहां मिलर और परेरा ने टीम को संभालने की कोशिश की और स्कोर 112 तक पहुंचा दिया. खतरनाक दिख रही इस जोड़ी को रुम्मान रईस ने आजम के हाथों परेरा को कैच करा कर तोड़ा. परेरा के जाने के बाद मिलर भी ज्यादा देर नहीं टिके और 137 के कुल स्कोर पर हसन अली का शिकार हो गए. अंत में डैरेन सैमी (नाबाद 24) ने टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे.

इससे पहले, विश्व एकादश के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने टॉस जीतकर मेजबान टीम को बैटिंग के लिए आमंत्रित किया. फखर जमन (27) और शहजाद ने टीम को आक्रामक शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 61 रन जोड़े. फखर दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से रन आउट हुए. शहजाद ने सैमी की गेंद पर सीधा शॉट खेला जिस पर गेंद सैमी के हाथ से टकरा के विकेटों पर जा लगी और बाहर खड़े हुए फखर आउट हो गए. इसके बाद शहजाद ने आजम के साथ मिलकर रन बटोरे और दूसरे विकेट के लिए 102 रनों की साझेदारी की। शहजाद भी रन आउट हुए। आठ चौके और तीन छक्के मारने वाले शहजाद 18वें ओवर की पांचवीं गेंद पर 163 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौटे. आखिरी ओवर की पहली गेंद पर परेरा ने आजम को अर्धशतक पूरा करने से रोक दिया.