नई दिल्ली, भारत में वैसे तो 13 के अंक को अशुभ माना जाता है लेकिन टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा के लिए ये अंक शुभ है. बल्लेबाजी में 13 के अंक से उनका खास नाता रहा है. दरअसल, महीने की 13 तारीख को रोहित शर्मा जब भी मैदान पर उतरे हैं उनके बल्ले ने बड़े स्कोर किए हैं.

13 तारीख को साउथ अफ्रीका में पहला शतक

इसका एक बड़ा प्रमाण पोर्ट एलिजाबेथ में खेली उनकी शतकीय पारी है. 13 फरवरी 2018 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ मौजूदा वनडे सीरीज में रोहित शर्मा ने शानदार शतक जमाया . लेकिन, 13 तारीख से रोहित की बड़ी पारी का ये कोई पहला कनेक्शन नहीं है. इससे पहले वो दो मौकों पर 13 तारीख को इससे भी बड़े धमाल क्रिकेट फील्ड पर कर चुके हैं.

13 तारीख से रोहित का खास कनेक्शन

रोहित शर्मा ने 13 नवंबर 2014 को श्रीलंका के खिलाफ वनडे क्रिकेट की सबसे बड़ी पारी खेलते हुए 264 रन बनाए थे. इसके बाद 13 दिसंबर 2017 को श्रीलंका के खिलाफ ही रोहित ने मोहाली में 208 रन की बड़ी पारी खेली थी. यानी, ये तीसरा मौका है जब रोहित ने 13 तारीख को बड़ी पारी खेली हैं.

साउथ अफ्रीका में जमाई रोहित की शतकीय पारी और क्यों है खास अब जरा वो समझिए. पोर्ट एलिजाबेथ में शतक जड़ने से पहले अफ्रीकी सरजमीं पर खेली पिछली 11 पारियों में रोहित के बल्ले से सिर्फ 126 रन निकले थे. इनमें उनका स्कोर 11, 9, 23,1, 5, 18, 19, 20, 15, 0 और 5 रन था.

'हिटमैन' रोहित शर्मा के शतक के पीछे विराट कोहली का हाथ!

'हिटमैन' रोहित शर्मा के शतक के पीछे विराट कोहली का हाथ!

सचिन और गांगुली के बाद रोहित 

यानी, पांचवें वनडे में खेली 115 रन की पारी साउथ अफ्रीका में रोहित का पहला वनडे शतक है. इसके अलावा ये रोहित के वनडे करियर का 17वां शतक है जबकि बतौर ओपनर 15वां शतक. 115 रन की पारी के साथ रोहित बतौर ओपनर वनडे में सर्वाधिक शतक लगाने वाले अब तीसरे भारतीय हैं. बतौर ओपनर उनसे ज्यादा शतक अब सिर्फ सचिन (45) और गांगुली (19 ) के नाम हैं.

साफ है, पोर्ट एलिजाबेथ में शतक के जरिए रोहित ने ना सिर्फ 13 तारीख से अपने खास कनेक्शन का एक और प्रमाण दिया है बल्कि इसके जरिए साउथ अफ्रीकी सरजमीं पर अपने खराब रिकॉर्ड को भी दुरुस्त करने की कोशिश की है.