नई दिल्ली: भारत के पैरा-लिफ्टर सचिन चौधरी को गोल्ड कोस्ट में जारी 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स की पुरुषों की हैवीवेट स्पर्धा में ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा है. सचिन ने कुल 181 किलोग्राम का भार उठाया. नाइजीरिया के अब्दुलजीज इब्राहिम ने 191.9 किग्रा भार उठा कर गोल्ड पर कब्जा जमाया. स्पर्धा का सिल्वर मेडल मलेशिया के यी खी जोंग के नाम रहा जिन्होंने 188.7 किलोग्राम भार उठाया. पहले दो प्रयास में सचिन ने 201 किलोग्राम का भार उठाने में असफल रहे, लेकिन अंतिम प्रयास में उन्होंने सफलता हासिल करते हुए ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया.

सतीश भी सेमीफाइनल में, पदक पक्का :

भारत के सतीश कुमार ने छठे दिन मुक्केबाजी की 91 प्लस किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. सतीश ने त्रिनिदाद एंड टोबैगो के नाइजल पॉल को क्वार्टर फाइनल में 4-1 से मात देकर सेमीफाइनल में जगह बनाई. इसी के साथ उन्होंने अपना ब्रॉन्ज मेडल पक्का कर लिया. हालांकि भारतीय खिलाड़ी पहले राउंड में पूरी तरह से बैकफुट पर रहे और अपने प्रतिद्वंद्वी की लंबाई ज्यादा होने के कारण उन्हें अपने मुक्के मारने में परेशानी हुई. नाइजल ने पहले राउंड में अच्छे पंच बरसाए जो सटीक रहे.

भारतीय निशानेबाज हिना सिद्धू ने जीता गोल्ड, कॉमनवेल्थ गेम्स का रिकॉर्ड तोड़ा

दूसरे राउंड में सतीश ने वापसी की और रक्षात्मक खेल खेला और नाइजल की ऊर्जा के व्यर्थ जाने दिया. आलम यह रहा कि आखिरी राउंड में नाइजल काफी थक गए थे और इसका फायदा सतीश ने बखूबी उठाया. भारत को मंगलवार को पांच मुक्केबाजी मुकाबले खेलने थे और उसने सभी में जीत हासिल करते हुए पांच ब्रॉन्ज मेडल पक्के कर लिए हैं. सतीश के अलावा, अमित, नमन, हुसामुद्दीन मोहम्मद, मनोज कुमार ने सेमीफाइनल का टिकट कटा लिया है.

हुसामुद्दीन सेमीफाइनल में, पदक पक्का :

भारतीय मुक्केबाज हुसामुद्दीन मोहम्मद ने पुरुषों की 56 किलोग्राम स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. मोहम्मद ने क्वार्टर फाइनल में जाम्बिया के एवेरिस्टो मुलेंगिया को आसानी से 5-0 से मात दी. इस जीत के साथ ही मोहम्मद ने अपने लिए कम से कम ब्रॉन्ज मेडल पक्का कर लिया है.

CWG 2018: क्या भारतीय वेटलिफ्टरों की कामयाबी के पीछे मटन और पोर्क की खुराक है?

भारतीय खिलाड़ी मोहम्मद अपने विपक्षी पर हावी रहे. मुलेंगिया ज्यादा आक्रामकता में दिखे और इसी का फायदा मोहम्मद ने उठाया. उन्होंने अपने फुटवर्क का अच्छा इस्तेमाल करते हुए विपक्षी खिलाड़ी के मुक्कों को जाया किया और फिर मौका पाते ही पलटवार किया.

सभी रेफरियों ने आम सहमति से मोहम्मद को विजेता घोषित किया. मोहम्मद सेमीफाइनल में पहुंचने वाले तीसरे भारतीय हैं. उनसे पहले अमित और नमन तंवर ने अंतिम-4 में जगह बनाते हुए ब्रॉन्ज मेडल पक्का कर लिया है. (एजेंसी इनपुट के साथ)