नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल खुश है कि स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर एक साल के प्रतिबंध के कारण भारत के खिलाफ घरेलू सीरीज में नहीं खेल पाएंगे, क्योंकि अगर वह मैदान पर उतरते तो दर्शक उनका विरोध करते. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने गेंद से छेड़छाड़ करने के आरोप में पूर्व कप्तान स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में गेंद से छेड़छाड़ का दोषी पाए जाने के बाद एक साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया था.

भारतीय टीम नवंबर के आखिर में ऑस्ट्रेलिया का दौरे शुरू करेगी, जहां उसे चार टेस्ट मैचों की सीरीज के अलावा सिमित ओवरों के मैचों में भी खेलना है. अपने कड़ी टिप्पणियों के लिए मशहूर चैपन ने मुंबई में एक कार्यक्रम में कहा, ”क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने सही किया. एकतरह से उन्होंने स्मिथ और वॉर्नर का साथ दिया है. क्योंकि, आप सोचिए अगर स्मिथ और वॉर्नर भारत के खिलाफ मैदान में उतरते तो कुछ दर्शक उनका विरोध करते, संभवत: सभी मैदानों में ऐसा होता.”

कोहली को आउट नहीं कर पाए हैं अश्विन, पढ़ें क्या है बैंगलोर-पंजाब की संभावित प्लेइंग इलेवन

चैपल ने कहा कि उनके देश में ‘‘चीट (धोखेबाज)’’ कहा जाना सबसे बुरा माना जाता है. उन्होंने कहा, ”ऑस्ट्रेलिया में किसी को धोखेबाज के नाम से जाना – जाना सबसे बुरा माना जाता है. इसलिए मैदान में उनका विरोध होता, जिससे उनका आत्मविश्वास डगमगाता और यह खेल की छवि के लिए भी सही नही होता.” चैपल कहा कि स्मिथ और वॉर्नर की गैरमौजूदगी में 70 साल के इतिहास में भारत के पास पहली बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने का मौका होगा.

VIDEO: बैंगलोर के खिलाड़ियों को मिली नई फिटनेस कोच, इस बॉलीवुड एक्ट्रेस ने ली जिम्मेदारी

उन्होंने कहा, ‘‘मैं टेस्ट सीरीज (ऑस्ट्रेलिया में) में भारत की जीत की भविष्यवाणी करूंगा. मुझे यह नहीं पता की भारतीय टीम आराम से जीतेगी या नहीं लेकिन जीतेगी. वास्तव में भारत के पास ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज करने का यह सर्वश्रेष्ठ मौका होगा. ऑस्ट्रेलिया को हराना अभी भी आसान नहीं होगा क्योंकि उनकी गेंदबाजी मजबूत है.’’

बता दें कि दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच फरवरी-मार्च 2018 में टेस्ट सीरीज खेली गई थी. इस सीरीज का एक मुकाबला केपटाउन में आयोजित हुआ था, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ी कैमरन बैनक्रॉफ्ट ने स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के कहने पर गेंद से छेड़छाड़ की थी. इस घटना के बाद तीनों खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया. वॉर्नर और स्मिथ पर एक-एक साल का और बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का प्रतिबंध लगा है. (एजेंसी इनपुट के साथ)