नई दिल्ली. गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय दल की शुरुआत बेशक चांदी के तमगे के साथ हुई लेकिन जल्दी ही उस पर सोने का रंग भी चढ़ गया. कमाल की बात ये रही ये दोनों ही कमाल वेटलिफ्टिंग में हुआ. पुरुषों के 56 किलो कैटेगरी में गुरुराजा ने सिल्वर मेडल जीतकर भारत का खाता खोला तो उस खाते में रिकॉर्ड गोल्डन जीत के साथ मीराबाई चानू ने अपना नाम दर्ज करवाया. मीराबाई चानू ने महिलाओं की 48 किलो कैटेगरी में रिकॉर्ड 196 केजी का भार उठाकर गोल्ड मेडल जीता. कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में मिली इस शुरुआती कामयाबी का जश्न जितना पूरे हिंदुस्तान में बना उतना ही सोशल मीडिया पर भी मना. ट्विटर पर भारतीय क्रिकेटरों की पूरी फौज ने मीराबाई और गुरुराजा की जबरदस्त कामयाबी को सराहा तो वहीं दूसरे खेलों से जुड़े खिलाड़ियों ने भी इन्हें बधाई देने में देर नहीं की.

रैना की बधाई

IPL के व्यस्त शेड्यूल के बावजूद सुरेश रैना ने मीराबाई और गुरुराजा को उनकी कामयाबी पर बधाई देने में देर नहीं की. उन्होंने दोनों की तस्वीरों के साथ ट्वीट कर लिखा, ‘ मेडल जीत के साथ नींद खुलना, वाकई सुखद अनुभव रहा. ये बस शुरुआत है, आगे भी रुकना नहीं है’

 

वीरू ने अपने अंदाज में दी बधाई

CWG में भारत को पहला गोल्ड, वेटलिफ्टिंग में मीराबाई चानू रिकॉर्ड जीत के साथ बनीं 'गोल्डन क्वीन'

CWG में भारत को पहला गोल्ड, वेटलिफ्टिंग में मीराबाई चानू रिकॉर्ड जीत के साथ बनीं 'गोल्डन क्वीन'

सहवाग ने भी ट्वीट कर मीराबाई और गुरुराजा दोनों को बधाई दी. मीराबाई को बधाई देते हुए सहवाग ने लिखा, ‘ हर जीत के साथ आपने कॉमनवेल्थ का रिकॉर्ड तोड़ा. नारी शक्ति जिंदाबाद.

इससे पहले सहवाग में गुरुराजा की सिल्वर जीत को भी जमकर सराहा और ट्वीट किया, ‘ बहुत-बहुत मुबारक गुरुराजा, भारत को पहला पदक दिलाने के लिए.’

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को पहला पदक,  वेटलिफ्टिंग में मिला सिल्वर मेडल

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को पहला पदक, वेटलिफ्टिंग में मिला सिल्वर मेडल

 

ईशांत शर्मा ने दी बधाई

भारतीय टेस्ट टीम के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने भी गुरुराजा की सिल्वर जीत पर उन्हें बधाई दी.

जीत से बढ़ेगा हौसला- कर्नम मल्लेश्वरी

कॉमनवेल्थ में सिल्वर जीतने के बाद छलका गुरुराजा का दर्द, कहा-  इससे परिवार की तंगहाली दूर करूंगा

कॉमनवेल्थ में सिल्वर जीतने के बाद छलका गुरुराजा का दर्द, कहा- इससे परिवार की तंगहाली दूर करूंगा

गोल्ड कोस्ट में मिली कामयाबी के बाद मीराबाई और गुरुराजा को बधाई संदेश सिर्फ भारतीय क्रिकेटरों से ही नहीं मिले बल्कि भारत की पहली महिला ओलंपिक मेडलिस्ट कर्नम मल्लेश्वरी ने भी इनकी कामयाबी को भारत के लिए बेहतरीन शुरुआत बताया है. कर्नम मल्लेश्वरी ने कहा, ‘ ये एक बेहतर शुरुआत है. इस जीत से दूसरे खिलाड़ियों का हौसला बढ़ेगा.’ कभी इंडिया की चैम्पियन वेटलिफ्टर रहीं मल्लेश्वरी ने चानू की लिफ्टिंग की जमकर प्रशंसा की. उन्होंने कहा कहा, ‘ चानू की लिफ्टिंग जबरदस्त थी. उसके पहले ही लिफ्ट से लग रहा था कि वो गोल्ड जीतेगी. इस प्रदर्शन से हम उससे ओलंपिक में भी मेडल की उम्मीद कर सकते हैं. ‘

 

कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में भारत के पदकों का खाता भी खुला, उस पर सोने का रंग भी चढ़ा, अब देखना ये है कि ये रंग ढंग मेडल टैली के नंबर को कहां तक ले जाता है और सबसे बड़ा सवाल ये कि क्या गोल्ड कोस्ट में हिंदुस्तानी दल दिल्ली के 101 नंबर को पीछे छोड़ेगा ?