नई दिल्ली. आईपीएल की शुरुआत हो चुकी है. सभी टीमों ने अपने-अपने कोटे के एक-एक मुकाबले भी खेल लिए हैं. यानी, अब तक IPL की आठों टीमों के बीच चार मुकाबले खेले जा चुके हैं और सभी के नतीजे भी आ गए हैं. इन चारों मुकाबलों में एक बात कॉमन है, वो है टॉस, जिसकी भूमिका सबसे अहम रही है. फिर चाहे वो चेन्नई और मुंबई के बीच खेला गया सीजन-11 का मुकाबला हो या फिर दिल्ली और पंजाब का, ईडन पर खेला गया कोलकाता या बैंगलोर का मुकाबला हो या फिर हैदराबाद और राजस्थान का. इन सबमें टॉस निर्णायक रही है. दूसरे लहजे में कहें तो IPL-11 के पहले मुकाबले से ही टॉस ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया और जो टीम इसके रंग में रंग गई वो विजेता बन गई.

टॉस जीता, मैच जीता

चेन्नई और मुंबई के बीच खेले गए IPL-11 के ओपनर में टॉस चेन्नई ने जीता और मुंबई इंडियंस को पहले बल्लेबाजी को उतारा. मुंबई ने चेन्नई के सामने 166 रन का लक्ष्य रखा, जिसका पीछा करते चेन्नई की टीम लड़खड़ाई जरूर लेकिन अंत में वो 1 विकेट से जीत दर्ज करने में कामयाब रहे. यानी, टॉस को कैश कर चेन्नई ने मैच भी अपने नाम कर लिया.

दूसरे मुकाबले में दिल्ली और पंजाब आमने-सामने थे. पंजाब ने टॉस जीतकर दिल्ली को बल्लेबाजी के लिए उतारा. गंभीर एंड कंपनी ने पंजाब को 167 रन का लक्ष्य दिया, जिसे उन्होंने आसानी से हासिल करते हुए दिल्ली का दम 6 विकेट से निकाल दिया.

IPL-11 के तीसरे मैच में ईडन गार्ड्न्स पर कोलकाता और बैंगलोर आमने सामने थे. इस मुकाबले में भी टॉस कोलकाता ने जीता और बैंगलोर को बल्लेबाजी का न्यौता दिया. विराट की कमान वाली बैंगलोर की टीम ने कार्तिक एंड कंपनी के सामने 177 रन का लक्ष्य रखा, जिसे कोलकाता ने 7 गेंद पहले 4 विकेट से हासिल कर लिया.

चौथे मैच की भी कहानी पहले तीन से जुदा नहीं रही. हैदराबाद ने टॉस जीतकर पहले राजस्थान को बल्लेबाजी के लिए उतारा और फिर उनसे मिले 126 रन के लक्ष्य को आसानी से चेज कर लिया.

टॉस को कैश किया, चेज किया

इन चारों मुकाबलों में जितना कॉमन टॉस को कैश करना रहा है उतना ही ये भी रहा है हर बार जीत चेज करने वाली टीम की हुई है. चारों मुकाबलों में टॉस जीतने वाले कप्तान ने पहले गेंदबाजी चुनी और टारगेट को चेज किया. उनके इस फैसले की वजह से उन्हें कामयाबी भी मिली.

IPL में पहली बार हुआ ऐसा

कमाल की बात ये है कि आईपीएल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब शुरुआती 4 मुकाबलों में चेज करने वाली टीम को जीत मिली है. इस मामले में IPL 2016 का रिकॉर्ड टूटा है, जहां चेज करने वाली टीम शुरुआती 3 मैचों में विजयी रही थी. IPL-11 में चेज करने वाली टीम के विजय-रथ पर अभी ब्रेक नहीं लगा है. देखना ये है कि ये सिलसिला कहां जाकर थमता है.