नई दिल्ली. विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका में वनडे सीरीज जीती और वो कर दिखाया जो अब तक किसी दूसरे भारतीय कप्तान ने नहीं किया था. अपनी कप्तानी में उन्होंने टीम इंडिया को वनडे में उसकी खोई बादशाहत लौटाई. लेकिन, विराट का विजय-रथ यहीं पर थमने वाला नहीं है. दक्षिण अफ्रीकी धरती पर कप्तान कोहली का कमाल अभी बाकी है.

स्टीव वॉ की करेंगे बराबरी

भारत को सीरीज जीत का ताज पहनाने वाले कप्तान कोहली अब ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ के क्लब में शामिल हो सकते हैं. हालांकि, इसके लिए उन्हें सेंचिरियन में टीम इंडिया का झंडा बुलंद करना होगा. स्टीव वॉ की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने साल 2001-02 के दक्षिण अफ्रीका दौरे पर 7 वनडे मैचों की सीरीज 5-1 से जीती थी. इस सीरीज में 1 मुकाबला टाई रहा था. कोहली की टीम भी मौजूदा सीरीज में 4-1 की बढ़त हासिल कर चुकी है. यानी, सेंचुरियन में खेला जाने वाला आखिरी वनडे अगर भारत जीत लेता है तो विराट कोहली अफ्रीकी धरती पर 5-1 से वनडे सीरीज जीतने वाले स्टीव वॉ के बाद दूसरे कप्तान बन जाएंगे.

सेंचुरियन में सितारे बुलंद

सेंचुरियन में कोहली के लिए स्टीव वॉ की बराबरी करना मुश्किल भी नहीं लग रहा. इसकी वजह है इस मैदान पर टीम इंडिया का शानदार रिकॉर्ड जो साउथ अफ्रीका के खिलाफ और भी बेहतर हो जाता है. इस मैदान पर टीम इंडिया ने अब तक ओवरऑल 12 वनडे खेले हैं जिसमें 5 वो जीता है और 5 हारा है. वहीं 2 मुकाबले बेनतीजा रहे हैं. लेकिन अगर सेंचुरियन में साउथ के खिलाफ भारतीय रिकॉर्ड पर नजर दौड़ाएं तो पिछले 6 वनडे में भारत 3 जीता है और 2 हारा है. वहीं, 1 मुकाबला बेनतीजा रहा है.

साउथ अफ्रीका को दूसरे वनडे में हराया

मौजूदा वनडे सीरीज का दूसरा वनडे भी भारत और साउथ अफ्रीका के बीच इसी मैदान पर खेला गया था, जिसमें कोहली एंड कंपनी ने 177 गेंद पहले ही मुकाबले को 9 विकेट से अपने नाम कर लिया था.

टीम इंडिया के लिए बेस्ट है सेंचुरियन

सेंचुरियन का सुपरस्पोर्ट्स पार्क, साउथ अफ्रीका के उन मैदानों में हैं जिस पर भारत की जीत और हार का अनुपात सबसे बेहतर रहा है. ये आंकड़ा प्रोटियाज टीम को डराने वाला हैं तो भारतीय टीम के लिए हौसला बढ़ाने वाला. दूसरे लहजे में कहें तो सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका के लिए विराट का विजय-रथ रोकना भी दूर की कौड़ी ही लग रहा है. जिसका मतलब है कि वनडे सीरीज जीत का इतिहास रचने वाले कप्तान कोहली अब स्टीव वॉ के क्लब में शामिल होकर दूसरा बड़ा कमाल करेंगे.