नई दिल्ली. भारत ने दक्षिण अफ्रीका में चल रही ताजा वनडे सीरीज जीत ली है. यह ऐतिहासिक है, क्योंकि इससे पहले टीम इंडिया के खाते में 6 वनडे सीरीज की हार का कलंक दर्ज है. लेकिन इस दौरे की यह जीत भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखी जाएगी. वैसे भी भारत और दक्षिण अफ्रीका का पुराना नाता रहा है. अंग्रेजी शासनकाल के दौरान भारत से गिरमिटिया दक्षिण अफ्रीका गए. उस दौर के सबसे चर्चित नामों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का नाम है. गांधी ने दक्षिण अफ्रीका में रहकर ही सबसे पहले रंगभेद के खिलाफ आवाज उठाई थी.

सविनय अवज्ञा आंदोलन वहां रह रहे भारतीयों की दशा को सुधारने की दिशा में उठाया गया सबसे बड़ा कदम था. इसके कई साल बाद जब दक्षिण अफ्रिकी नेता नेल्सन मंडेला ने रंगभेद का मुद्दा उठाया तो बरबस ही लोगों को गांधी के आंदोलन की याद आ गई. इन दोनों नेताओं की याद में ही आज दोनों देश गांधी-मंडेला क्रिकेट सीरीज खेलते हैं. इस बार इस सीरीज को फ्रेंडशिप सीरीज का नाम दिया गया है. खेल और राजनीति की ये करीबी ही है कि 2003 में जब विश्वकप दक्षिण अफ्रीका में हुआ तो उस दौरान टीम इंडिया के कप्तान रहे सौरव गांगुली ने पीटरमारिट्जबर्ग में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया था.

पीटरमारिट्जबर्ग में क्यों लगी गांधी की प्रतिमा
मोहनदास करमचंद गांधी वकालत करने गए अफ्रीका गए थे. यहीं पर सबसे पहले उन्होंने सामाजिक भेदभाव और रंगभेद को जाना. इसी दौरान 7 जून 1893 को ट्रेन में सफर के दौरान अंग्रेजों ने गांधी को ट्रेन के फर्स्ट क्लास के डब्बे से धक्का देकर उतार दिया था. जिस स्टेशन पर गांधी को धक्का दिया गया, वह पीटरमारिट्जबर्ग था. इसी स्टेशन पर गांधी ने सर्दी की वह रात गुजारी और रंगभेद के खिलाफ संघर्ष शुरू करने का निर्णय लिया. इसी की याद में पीटरमारिट्जबर्ग में गांधी की प्रतिमा लगाई गई.

गांधी स्मारक ट्रेन में भी टीम ने किया था सफर
सौरव गांगुली की कप्तानी वाली इस टीम ने इसी दौरे में उस स्मारक ट्रेन में भी सफर किया था, जिससे गांधी को धक्का दिया गया. भारतीय टीम ने पेंट्रिच से पीटरमारिट्जबर्ग तक का करीब 10 मिनट तक का सफर कर गांधी के उस दौर को याद किया. इस स्मारक ट्रेन में गांधी की एक रेप्लिका भी लगाई गई है. ऐतिहासिक ट्रेन के सफर के बाद सौरव गांगुली ने कहा था, ‘हम किताबों में गांधी के साथ हुई उस घटना के बारे में पढ़ते रहे हैं. इसलिए आज इस ट्रेन का सफर हमारे लिए बेहद रोमांचक अनुभव है.’