नई दिल्ली. भारतीय कप्तान विराट कोहली की मोम की प्रतिमा यहां दिल्ली मैडम तुसाद म्युजियम की शोभा बढाएगी. इससे पहले सचिन तेंदुलकर, कपिल देव और लियोनेल मेस्सी की प्रतिमायें पहले ही से संग्रहालय में है.

12 साल पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण से अंडर-19 विश्व कप में जीत और भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान बनने तक कोहली का सफर सुनहरा रहा है. उन्हें अर्जुन पुरस्कार, आईसीसी वर्ष के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर का पुरस्कार और बीसीसीआई के सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर के तीन पुरस्कार मिल चुके हैं. भारत सरकार ने उन्हें पद्मश्री से नवाजा है.

कोहली ने मैडम तुसाद टीम से मुलाकात की है. लंदन से विश्व विख्यात कलाकारों की एक टीम ने आकर उनका नाप लिया है. कोहली ने इस बारे में कहा, ‘यह बड़े फख्र की बात है. मैं मैडम तुसाद टीम को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने मुझे ऐसी जिंदगी भर साथ रहने वाली याद दी है.’