पटनाः बिहार में एक लोकसभा सीट और दो विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में भभुआ विधानसभा सीट को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस पार्टी आमने-सामने आ गई हैं, जिससे पूरे देश में विपक्षियों को एक करने के प्रयास को एक बार फिर झटका लगा है. बिहार कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह ने यहां मंगलवार को स्पष्ट कर दिया कि राजद अगर भभुआ सीट पर अपने उम्मीदवार उतारती भी है, तब भी कांग्रेस अपना उम्मीदवार उतारेगी.

राजद द्वारा तीनों सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा को गठबंधन धर्म के विपरीत बताते हुए उन्होंने कहा कि एकतरफा कोई दल निर्णय ले ले तो यह गठबंधन धर्म नहीं हैं. मैं आलाकमान से कहना चाहता हूं कि पार्टी को भी यहां प्रत्याशी उतारने की इजाजत दी जाए, इस बार अपनी-अपनी शक्ति की आजमाइश हो जाए.

राजस्थान उपचुनाव में जीत से उत्साहित कांग्रेस के नेता ने तो राजद को चुनौती देते हुए कहा कि कांग्रेस अब राजद को अपनी ताकत दिखाएगी. उन्होंने कहा कि भभुआ सीट पर कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता चुनाव लड़ना चाहता है. हम लोग इस स्थिति में हैं कि भभुआ सीट पर राजद के उम्मीदवार के मैदान में होने के बावजूद हम विजयी होंगे. उल्लेखनीय है कि राज्य के अररिया लोकसभा और भभुआ व जहानाबाद विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है. 11 मार्च को यहां मतदान होना है.