लखनऊ: यूपी में शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में शामिल होने वाले अभ्‍यर्थियों के लिए अच्‍छी खबर है. 12460 सहायक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में एक मई को नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे. बताया गया है कि भर्ती प्रक्रिया के दौरान अब फिलहाल दूसरी काउंसलिंग नहीं कराई जाएगी. यूपी बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव संजय सिन्‍हा ने बताया कि पहली काउंसलिंग में शामिल होने वाले अभ्‍यर्थियों को 23 अप्रैल को बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में उपस्थित होना पड़ेगा. उपस्थित होने पर ही अभ्‍यर्थन पर विचार किया जाएगा. इस तारीख को उपस्थित न होने वालों के अभ्यर्थन पर जिला चयन समिति विचार नहीं करेगी।

12460 सहायक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को लेकर बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव संजय सिन्‍हा ने सभी बीएसए को जारी निर्देश में कहा है कि पहली काउंसलिंग 18 से 20 मार्च, 2017 हो हुई थी. उन्‍होंने बताया कि पहली काउंसलिंग में मौजूद रहे अभ्‍यर्थियों को मूल प्रमाणपत्रों के साथ 23 अप्रैल को बीएसए ऑफिस में आना होगा. यदि उनके मूल प्रमाणपत्र जमा हैं तो उन्‍हें व्‍यक्तिगत रूप से उपस्थिति पंजिका पर साइन करने होंगे. उन्‍होंने बताया कि भर्ती प्रक्रिया में शामिल संबंधित अभ्‍यर्थियों को विज्ञप्ति के अलावा फोन से भी सूचना देने के निर्देश जारी किए गए हैं. 23 अप्रैल को मौजूद अभ्‍यर्थियों में से ही चयन सूची तैयारी की जाएगी. इसे 27 अप्रैल तक अनुमोदित किया जाएगा और एक मई को नियुक्ति पत्र दिया जाना है.

पढ़ें : यूपी में वॉक इन इंटरव्यू के जरिये होगी 128 डाक्‍टरों की भर्ती, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने जारी किया शासनादेश

19 अप्रैल को जारी होगा विज्ञापन, फोन से भी देंगे सूचना 

सचिव संजय सिन्‍हा ने बताया कि 19 अप्रैल को इस संबंध में समाचार पत्रों में विज्ञापन भी जारी होगा. सचिव ने निर्देश दिया कि भर्ती की प्रथम काउंसिलिंग कराने वाले व 23 को बीएसए कार्यालय पहुंचने वाले अभ्यर्थियों की सूची बनाकर जिले में उपलब्ध पदों के सापेक्ष आरक्षणवार व श्रेणीवार सूची बना लें. सचिव ने यह भी निर्देश दिया कि नियुक्ति पाने वाले सभी अभ्यर्थियों के शैक्षिक अभिलेखों की सत्यापन की कार्रवाई भी तत्काल शुरू करा दें, सत्यापन के बाद ही उनके वेतन का भुगतान होगा। चार मई को सभी बीएसए इस भर्ती के लिए जिले में उपलब्ध पद, निर्गत नियुक्ति पत्र और रिक्त पदों की संख्या की सूचना परिषद मुख्यालय को भेजेंगे. यही नहीं 23 अप्रैल को उपस्थित होने वाले अभ्यर्थियों के हस्ताक्षर की कॉपी भी परिषद मुख्यालय को भेजी जाएगी। इसमें किसी प्रकार की ढिलाई स्वीकार नहीं की जाएगी.