नई दिल्लीः मेरठ में मंगलवार को पुलिस ने सेक्स रैकेट का खुलासा किया. पुलिस ने बताया कि इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है, वहीं 70 लोगों को हिरासत में लिया है. सेक्स रैकेट में हाउस वाइफ से लेकर छात्राएं तक शामिल थीं. हिरासत में लिए गए लोगों को थाने से परिजनों के हवाले कर दिया गया. पुलिस की छापेमारी के बाद चार होटलों को सील कर दिया गया है.

बताया जा रहा है कि मेरठ रोडवेज बस स्टैंड के सामने बने चार होटल में सेक्स रैकेट चलाए जाने की लगातार सूचनाएं मिल रही थीं. एएसपी सतपाल अंतिल के नेतृत्व में मंगलवार को इन सभी होटलों में छापेमारी की गई. छापा पड़ते ही इलाके में हड़कंप मच गया. पुलिस ने मौके से 39 पुरुषों और 35 महिलाओं को हिरासत में लिया. इतनी बड़ी संख्या की पुलिस को उम्मीद भी नहीं थी इसलिए हिरासत में लिए गए लोगों को महिला थाने पहुंचाने के लिए बस का इंतजाम करना पड़ा.

महिला थाने की एसओ ने बताया कि हिरासत में लाई गई महिलाएं और युवतियां 40 से 20 वर्ष तक की उम्र की हैं. हिरासत में लिए गए सभी लोग बालिग हैं, जिसकी वजह से इनके खिलाफ कोई अपराध नहीं बनता है. सभी को चेतावनी देकर घरवालों के सुपुर्द किया जा रहा है. सभी होटेल के मालिकों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है.

गौरतलब है कि देह व्यापार के दलदल में फंसी जयपुर की तीन लड़कियों को 8 मार्च को मेरठ से रेस्क्यू किया गया था. इस कार्रवाई में तीनों को जिस्मफरोशी के धंधे में जबरन फंसाने वाली महिला समेत दो ग्राहकों को भी गिरफ्तार किया गया था.