लखनऊ: काले हिरन की मौत के मामले में फिल्म स्टार सलमान खान को सजा सुनाए जाने के बाद यूपी के बांदा जिले के डीएम भी एक्शन में आ गए है. दरअसल, बांदा जिले में चिल्ला थाना क्षेत्र के महेंदू गांव में सोमवार शाम घायल दुर्लभ प्रजाति के काले हिरण की मौत हो गयी थी. बावजूद इसके प्रशासन ने पूरे मामले को हल्के में लिया. अब डीएम ने मामले की जांच करने के आदेश दे दिए हैं. जिलाधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने जिला वनाधिकारी को मामले की जांच कर रपट सौंपने को कहा है.

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, डीएम ने बताया कि सोमवार शाम पानी की तलाश में महेंदू गांव की बस्ती में घुस आए एक वयस्क काला हिरण आवारा कुत्तों के हमले में घायल हो गया था, जिसकी कथित तौर पर समय से उपचार न मिलने पर मौत हो गई थी. उन्होंने कहा कि इस मामले में वन कर्मियों की लापरवाही सामने आने पर जांच के आदेश दिए गए हैं और जिला वनाधिकारी (डीएफओ) से रिपोर्ट मांगी गई है. गौरतलब है कि चिल्ला थाने की पुलिस ने सोमवार शाम करीब आठ बजे वन विभाग को काले हिरण के घायल होने की सूचना दी थी.

पढ़ें: सलमान खान को 5 साल की सजा, जोधपुर सेंट्रल जेल में कटेगी रात

घायल हिरन को पशु अस्पताल के बजाए पशु बाड़े में रखा, वहीं हुई मौत

वन रक्षक राजेंद्र क्षेत्रीय वन दरोगा राम प्रसाद के साथ गांव पहुंचे और उन्होंने घायल हिरण को कब्जे में ले लिया था. लेकिन वन अधिकारियों हिरण को पशु अस्पताल पहुंचाने के बजाय उसे भरौड़ा गांव के पशु बाड़े में रात भर रखा, जहां अत्यधिक रक्त स्राव के कारण उसकी मौत हो गई.

और डीएम को देने पड़े जांच के आदेश

जोधपुर न्यायालय द्वारा सलमान खान को काले हिरण के शिकार मामले में गुरुवार को सुनाई गई पांच साल की सजा के बाद यहां काले हिरण की मौत का मामला मीडिया में छा गया और जिलाधिकारी को जांच के आदेश देने पड़े.