लखनऊ: उत्तर प्रदेश में इन दिनों हर ओर भगवा झंडा लहरा रहा है. चाहे नेता हों या कार्यकर्ता हर कोई भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर वाला झंडा लगाकर चल रहा है. लेकिन झंडे के पीछे कुछ लोग बड़ा खेल भी कर रहे हैं. कुछ ऐसा ही बरेली जिले में देखने को मिला. यहां तस्कर कार पर भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर वाला झंडा लगाकर उत्तराखंड से शराब तस्करी करते पकड़े गए. पुलिस ने चार तस्करों को भारी मात्रा में अवैध शराब के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

जानकारी के मुताबिक, बरेली के थाना सुभाषनगर में खड़ी भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर वाला झंडा लगी टाटा इंडिगो गाड़ी से शराब की तस्करी की जा रही थी. एसपी क्राइम रमेश कुमार भारतीय ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच ने पराग दूध फैक्ट्री करगैना के पास से एक टाटा इंडिगो गाड़ी समेत चार लोगों को हिरासत में लिया. पुलिस ने उनके पास से 40 पेटी जुबली कंपनी की अंग्रेज़ी शराब पकड़ी. जिसमें 1920 क्वाटर, पार्टी स्पेशल ब्राण्ड की चौदह पेटी, क्रेज़ी रोमीओ ब्राण्ड की दस बोतल अवैध शराब बरामद हुई. पकड़े गये सभी तस्करों ने बताया कि वह बरेली के रहने वाले हैं. और काफी समय से शराब तस्करी में लिप्त थे.

पढ़ें: एंबुलेंस में कर रहा था शराब की तस्करी, पुलिस ने ऐसे किया गिरफ्तार

police-Caught-alcohol-car-2

पुलिस ने इन्हें किया गिरफ्तार

क्राइम ब्रांच ने सत्यप्रकाश पुत्र लेखराज निवासी दभौरा थाना भोजीपुरा, संजय राठौर पुत्र रामभजन निवासी नवादा शेखान थाना बारादरी, जोगेंद्र सिंह पुत्र रामशरण आर्य निवासी अट्टा पट्टी सुमाली थाना भोजीपुरा और सतीश राठौर पुत्र रामदास निवासी नवादा शेखान थाना बारादरी को गिरफ्तार किया हैं.

जानिये क्यों करते थे तस्करी

पकड़े गए शराब तस्करों ने पुलिस को बताया कि यूपी में नई आबकारी नीति आने के बाद अभी तक शराब के ठेकों पर शराब नहीं पहुंच पा रही है. ऐसे में लाभ कमाने के लिए उन्होंने उत्तराखंड से शराब तस्करी शुरू कर दी.