लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी बी आर अम्बेडकर ने बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा की मौजूदगी में विधान परिषद के लिए आज नामांकन दाखिल किया.

सपा और बसपा में विधान परिषद् की सीट के लिए गठबंधन हुआ,  सपा के समर्थन से बसपा के प्रत्याशी बी आर अम्बेडकर ने विधान परिषद् की सीट के लिए नामांकन किया.

राज्य सभा चुनाव में बसपा प्रत्याशी की हुई थी हार 
राज्य सभा चुनाव के पूर्व बसपा ने विधान परिषद सीट पर भी समाजवादी पार्टी को समर्थन देने की बात की थी लेकिन राज्यसभा चुनाव में बसपा के प्रत्याशी बी आर अम्बेडकर चुनाव हार गए थे और इसका फायदा भाजपा सरकार ने ये कह कर उठाने की कोशिश की थी कि समाजवादी पार्टी सिर्फ लेना जानती है देना नहीं लेकिन सपा- बसपा गठबंधन को तोड़ने में सीएम योगी के प्रयास काम नहीं आए.

नामांकन में बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा भी रहे मौजूद
समाजवादी पार्टी ने अपने बचे वोट वोट बसपा को ट्रांसफर करने फैसला किया है, नामांकन के अवसर पर बसपा के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि हम अपनी नेता बसपा सुप्रीमो मायावती जी का धन्यवाद करते हैं साथ ही मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि जैसा कि आप जानते हैं कि कल रात में ही समाजवादी पार्टी ने हमारे उम्मीदवार को समर्थन दिया है इसलिए आज नामांकन दाखिल करना सुनिश्चित हुआ.
बीजेपी 4 से भी ज्यादा उम्मीदवार खड़ा करे तो परेशानी नहीं- सतीश चन्द्र
सतीश चंद्र मिश्र का कहना था कि इस बार अगर बीजेपी इस बार चार से भी ज़्यादा उम्मीदवार खड़ा करती है तो भी हमारे प्रत्याशी को कोई दिक़्क़त नहीं होगी, जीत हर हाल में हमारे प्रत्याशी की होगी.
भाजपा को बी आर अम्बेडकर नाम से समस्या- सतीश चन्द्र मिश्र
पिछली बार राज्य सभा चुनाव में हमारे प्रत्याशी भीम राव अम्बेडकर के नाम से बीजेपी को परेशानी थी उन्होंने सत्ता के नशे में पूरी ताक़त लगा के उन्हें राज्य सभा में जाने से रोका था लेकिन इस बार उनकी सारी ताक़त निष्फल होगी और हमारे प्रत्याशी की जीत होगी.