लखनऊ: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने पहले दौरे में कौशाम्बी को बड़ी सौगात दी है. मुख्यमंत्री ने 300 करोड़ रुपये की 100 से अधिक परियोजनाओं के शिलान्यास और लोकार्पण के साथ कई घोषणाएं भी कीं. इस दौरान उन्होंने कौशाम्बी को बौद्ध सर्किट से जोड़कर अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटन का दर्जा दिलाने की घोषणा की.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कौशाम्बी पहुंचे. उन्होंने भगवान गौतमबुद्ध की तपोस्थली का निरीक्षण किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कौशाम्बी में ही रामायण व बौद्ध सर्किट एक साथ मिलती है. इसलिए इसे बौद्ध सर्किट से जोड़कर अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटन का केंद्र बनाया जाएगा.

पढ़ें: सीएम योगी आदित्यनाथ ने देवरिया को दी सौगात, खुलेगा मेडिकल कॉलेज

स्कूल चलो अभियान व दस्तक टीकाकरण का शुभारम्भ किया

इसके बाद घोसिताराम विहार पहुंचे मुख्यमंत्री योगी ने स्कूल चलो अभियान व दस्तक टीकाकरण का शुभारम्भ किया. इस अवसर पर उन्होंने नौ बच्चों का अन्नप्राशन संस्कार भी किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि ‘स्कूल चलो अभियान’ के तहत कोई भी बच्चा स्कूल में नामांकन से छूटना नहीं चाहिए. सभी लोग सभी बच्चों को स्कूल भेजें. उन्होंने कहा कि शास्त्रों में कहा गया है की सबसे बड़ा दान विद्यादान है. सरकार की ओर से अंग्रेजी माध्यम के स्कूल चलाया जाना एक मिसाल बनेगा.योगी ने लोगों ने कहा कि टीकाकरण कराकर कुपोषण के खात्मे में सरकार के संकल्प को पूरा करने में सहयोग दें.