लखनऊ: यूपी में विधान परिषद चुनाव को लेकर राजनैतिक हलचल शुरू ही गई है. भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव के लिए प्रत्याशियों की लिस्ट घोषित कर दी है. बीजेपी ने योगी सरकार में इकलौते मंत्री मोहसिन रजा और सपा छोड़ कर आए बुक्कल नवाब को भी मौका दिया है. बीजेपी ने इन दो नेताओं सहित दस प्रत्याशियों की घोषणा कर लिस्ट जारी की है. मोहसिन रजा इस समय विधान परिषद् के सदस्य हैं. उनका कार्यकाल भी 5 मई को खत्म हो रहा है.

बीजेपी के इन नेताओं को मिले टिकट
बीजेपी ने सपा व बसपा छोड़कर आए लोगों को भी मौका दिया है. लिस्ट में यूपी सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मोहसिन रजा, डॉ. महेंद्र सिंह, सरोजनी अग्रवाल, यशवंत सिंह, जयवीर सिंह, विद्या सागर सोनकर, विजय बहादुर पाठक, अशोक धवन, अशोक कटारिया व बुक्कल नवाब को उम्मीदवार बनाया गया है.

बीजेपी को 11, एक-एक पर सपा-बसपा की जीत तय
माना जा रहा है कि सपा-बसपा गठबंधन को दो सीटें मिलेंगी, जबकि 13 में से 11 सीटों पर भाजपा की जीत तय मानी जा रही है. 11वां उम्मीदवार अपना दल पार्टी से होगा. अपना दल से उम्मीदवार कौन होगा अभी इसकी घोषणा बाकी है. बता दें कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 13 सीटों के लिए 26 अप्रैल को चुनाव होंगे. इसकी अधिसूचना 9 अप्रैल को जारी हुई थी. चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तारीख 16 अप्रैल है. चुनाव परिणाम 26 अप्रैल को शाम तक घोषित किए जाएंगे.

इनका सदस्यों का कार्यकाल हो रहा पूरा
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सहित 13 सदस्यों का कार्यकाल 5 मई को पूरा हो रहा है. अखिलेश के साथ ही जिन लोगों का कार्यकाल पूरा हो रहा है, उनमें से उमर अली खान, नरेश चंद्र, मोहसिन रजा, मधु गुप्ता, डॉ. महेंद्र सिंह, रामसकल गुर्जर, मुश्ताक, सुनील कुमार, राजेंद्र चौधरी व डॉ. विजय यादव हैं. अभी मौजूद सदस्यों में से समाजवादी पार्टी के सात, बसपा के दो, भाजपा के 2 व एक रालोद के हैं. अंबिका चौधरी ने इस्तीफा दे दिया था, इसलिए एक सीट पहले से ही खाली है.