लखनऊ: पीडब्ल्यूडी विभाग ने सड़कों के रखरखाव को नए स्तर पर ले जाने की योजना बनाई है. इसके तहत पीडब्ल्यूडी विभाग रोड डायरेक्टरी तैयार करेगा। इस योजना से प्रदेश की सड़कों से सम्बंधित समस्याओं का त्वरित निस्तारण हो सकेगा.

जिलेवार होगी रोड डायरेक्टरी
यह रोड डायरेक्टरी जिलेवार तैयार की जाएगी. हर जिले की डायरेक्टरी में पीडब्ल्यूडी विभाग की सड़कों के साथ-साथ अन्य सभी विभागों की भी सड़के शामिल होंगी. इस रोड डायरेक्टरी में सड़क का नाम, उसकी लंबाई, लागत, निर्माण वर्ष और संबंधित विभाग का नाम भी लिखा जाएगा

जिला प्रशासन से ली जायेगी मदद
सभी विभागों से सामंजस्य स्थापित करने में जिले स्तर पर डीएम एवं अन्य जिला प्रशासनिक अधिकारियों की भी मदद ली जाएगी. इस रोड डायरेक्टरी के निर्माण से सड़कों के रखरखाव और नव निर्माण में सहूलियत मिलेगी साथ ही सड़कों की व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त किया जा सकेगा.

नई पहल, व्हाट्सअप नंबर पर करें डायरेक्ट शिकायत
इसी के साथ प्रदेश में सड़कों से संबंधित शिकायतों के त्वरित निस्तारण को ध्यान में रखते हुए पीडब्ल्यूडी विभाग ने एक व्हाट्सअप नंबर जारी किया है. जिससे सड़कों के रख-रखाव, टूट-फूट और अन्य शिकायतों के निवारण के लिए आम जनता से सीधे जुड़ा जा सके.
सड़कों से संबंधित शिकायतों के तत्काल निस्तारण के लिए पीडब्ल्यूडी विभाग ने व्हाट्सअप नंबर- +91 7991995566 जारी किया है. आम जनता के द्वारा इस नंबर पर सीधे शिकायतें भेजी जा सकेंगी, जिसकी मॉनिटरिंग उच्च स्तर पर की जाएगी.

मुख्यालय करेगा मॉनिटरिंग
विभाग के व्हाट्सअप नंबर पर दर्ज कराई गई शिकायतों की मॉनिटरिंग पीडब्ल्यूडी मुख्यालय स्थित कमाण्ड सेंटर में की जाएगी. कमाण्ड सेंटर से यह मैसेज संबंधित डिवीजन को जाएगा और इसकी जानकारी सुपरिंटेंडेंट इंजीनियर और चीफ इंजीनियर को भी दी जाएगी.

शिकायतकर्ता को दी जाएगी जानकारी
शिकायत की गंभीरता को देखते हुए उसके निस्तारण की अवधि तय की जाएगी और शिकायत के निस्तारण के बाद इसकी सूचना कमाण्ड सेंटर के जरिए शिकायतकर्ता को दी जाएगी.
इस पहल के जरिए पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा ना सिर्फ शिकायतों का त्वरित निस्तारण किया जा सकेगा बल्कि विभाग की छवि को भी बदलने का मौका मिलेगा.