लखनऊ: यूपी के हापुड़ में खेल-खेल में तीसरी क्लास की स्टूडेंट की जान चली गई. क्राइम सीरियल देखते हुए स्टूडेंट ने अपने दोस्तों के सामने ही फांसी लगाकर सुसाइड कर ली. पुलिस के मुताबिक बच्चों ने ही चुन्नी को जिससे फांसी लगाई गई, को कैंची से काटा और फिर बॉडी को कमरे में रखकर भाग गये. पहले बच्ची की हत्या की आशंका जताई जा रही थी, लेकिन पूछताछ में खेल-खेल में सुसाइड की बात सामने आई. एएनआई की खबर के अनुसार हापुड़ के कोतवाली इलाके के मोहल्ला नबी करीम में मंगलवार (27 मार्च) को देर रात फांसी लगा लेने से तीसरी क्लास की 8 साल की स्टूडेंट की मौत हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस को ये मामला पहले हत्या का लगा क्योंकि शव दूसरे घर से मिला, लेकिन फिर साथ खेल रहे बच्चों से पूछताछ की गई तो सुसाइड की बात साफ़ हो गई.

 

ये भी पढ़ें: ब्लू व्हेल गेम का आतंक: यूपी में गेम खेल रहे 13 साल के बच्चे ने की आत्महत्या

फांसी-फांसी खेलने को कहा और चुन्नी से लटक गई
बताया जा रहा है कि सिमरन अपने दोस्तों के साथ पड़ोस के घर में टीवी पर क्राइम शो देख रही थी. घटनास्थल पर मौजूद बच्चों ने पूछताछ में बताया कि वो सभी टीवी पर क्राइम शो देख रहे थे. उसी सीरियल में एक लड़की खुद को फांसी लगा रही थी, तभी सिमरन ने भी चुन्नी से फांसी-फांसी खेलने को कहा और खुद को फांसी लगा ली. पुलिस ने बताया कि छात्रा ने खेलते हुए चुन्नी को एक जगह पर बांधा और खेल-खेल में अपने गले में बांधकर उस पर झूल गई. चुन्नी में लगी गांठ खुल नहीं पाई और उसकी मौत हो गई. बच्चों ने सिमरन के फांसी लगाने के बाद उसे बचाने की कोशिश भी की. बच्चों ने उसकी चुन्नी को कैंची से काटा और उसे नीचे लिटाया. बहुत देर तक जब सिमरन नहीं उठी, तब बच्चों ने उसकी लाश को सीमेंट के कट्टे के पास छोड़ा और अपने-अपने घर चले गए.

शव का कराया गया पोस्टमार्टम
जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया. बच्ची के परिजनों का कहना है कि बच्चे अक्सर अकेले ही टीवी सीरियल देखते हैं, लेकिन कभी ऐसा सोचा नहीं था कि ऐसा हादसा हो जाएगा. पुलिस ने बताया कि बच्चों की गवाही के बाद मामले को जल्द ही सुलझा लिया गया. पुलिस ने बताया कि दम घुटने से बच्ची की मौत हुई है.