गाजियाबाद: शहर के बजरिया इलाके में रेलवे रोड पर बने होटलों पर सोमवार रात पुलिस की छापेमारी के दौरान करीब 50 जोड़ों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा गया।अधिकारियों ने कहा कि छापे के बाद इलाके के पुलिस उपाधीक्षक समेत 14 पुलिसकर्मियों को हटा दिया गया। जिन दो होटलों में छापा पड़ा है उनमें से एक होटल का मालिक सपा नेता बताया जा रहा है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर होटलों को सील कर दिया है। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।

वहीं जी टी रोड कोतवाली के थाना प्रभारी के खिलाफ जांच भी शुरू कर दी गई है। एक सूचना के आधार पर उपाधीक्षक सलोनी अग्रवाल और महिला थाने की प्रभारी आरती सोनी के नेतृत्व में उन होटलों पर छापेमारी की गई जहां देह व्यापार होने की आशंका थी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार ने कहा कि छापे के कार्यक्रम की जानकारी स्थानीय पुलिस और उसके अधिकारियों को नहीं दी गई थी।

एसएसपी ने कहा कि कमरों की तलाशी के दौरान लड़कियां और युवक आपत्तिजनक हालत में पाए गए और उन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने कहा कि कोतवाली पुलिस द्वारा 50 जोड़ों को हिरासत में लिया गया है जिन्हें कल अदालत में पेश किया जाएगा। यह भी पढ़ें: भूकंप से खुली सेक्स रैकेट की पोल!

उन्होंने कहा कि कोतवाली पुलिस की तरफ से 50 जोड़ों को हिरासत में लिया गया है, जिन्हें अदालत में पेश किया जाएगा। एसएसपी ने कहा कि डीएसपी इंदरपाल सिंह (क्षेत्राधिकारी शहर 1) और चौकी प्रभारी को एक दर्जन पुलिस कर्मियों को वहां से हटा दिया गया है और थाना प्रभारी कोतवाली परशुराम के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है।