लखनऊ: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद, इलाहाबाद ने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं का परिणाम 29 अप्रैल को जारी करने की घोषणा की है. यूपी बोर्ड पहली बार अप्रैल महीने में रिजल्‍ट जारी करने रिकॉर्ड बनाने जा रहा हैृ. बता दें कि छह फ़रवरी से 12 मार्च के बीच यूपी बोर्ड की दसवीं और 12वीं की परीक्षाएं हुईं थीं. जबकि उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य 17 मार्च से शुरू हुआ था.

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड), इलाहाबाद की सचिव नीना श्रीवास्ताव ने बताया कि 29 अप्रैल को 10वीं और 12 वीं के रिजल्‍ट घोषित किए जाएंगे. 29 अप्रैल को रिजल्‍ट घोषित होने से यूपी बोर्ड के 12वीं के छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए योजना व रणनीति बनाने का अच्छा खासा समय मिल जाएगा. बोर्ड ने इस पर दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं में गुणात्मक सुधार और पारदर्शिता लाने के लिए इस बार कई कदम उठाए थे. इस बार 10वीं में 36 लाख से ज्यादा विद्यार्थी पंजीकृत थे. जबकि 12वीं में करीब 30 लाख विद्यार्थी पंजीकृत थे. यानी करीब 66 लाख विद्यार्थियों ने यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था. बोर्ड की ओर से बताया गया है कि इस बार 10वीं और 12वीं के टॉप 20 छात्र-छात्राओं की कॉपियां भी वेबसाइट पर भी अपलोड की जाएंगी.

पढ़ें: UP Board Result 2018: जानें, ऑनलाइन कैसे चेक कर सकते हैं रिजल्ट

इस बार तीन महीने पहले ही जारी हुुआ था परीक्षा कार्यक्रम 

बता दें यूपी बोर्ड ने इस बार परीक्षा का कार्यक्रम तीन माह पहले ही जारी कर दिया था. साथ ही नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए प्रदेश भर में परीक्षा केन्द्रों पर अनिवार्य रुप से सीसीटीवी कैमरे भी लगाये गए थे. बोर्ड परीक्षा में सख्ती के चलते 11 लाख 23 हजार से ज्यादा परीक्षार्थियों ने परीक्षा से तौबा भी कर लिया. जबकि यूपी बोर्ड ने पहली बार सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में ही उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य कराया गया. यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन पूरा कर लिया गया है. 29 अप्रैल को रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा.