कौशांबी : दहेज के लिए पति की हैवानियत का मामला सामने आया है. कौशांबी जिले के तिल्‍हापुर गांव में एक पति ने हैवानियत दिखाते हुए अपनी पत्‍नी और दो मासूम बेटियों को जलाकर मार डाला. उसने मामले को छिपाने के लिए उसने तीनों को शवों को जला दिया. इसके बाद उनके अधजले शवों को बक्से में बंद कर दिया. और मौके से फरार हो गया. पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है. मृत महिला अमरावती की मां के मुताबिक बेटी का पति आए दिन उससे मारपीट कर दहेज के रूप में बड़ी रकम की मांग करता था.

पत्नी के साथ प्रतिदिन करता था मारपीट
मामला सराय अकिल थाना इलाके के गांव तिल्‍हापुर गांव में हुई. सुबह घर पहुंची अमरावती की मां ने हत्‍या की सूचना पुलिस को दी. आसपास के लोगों के अनुसार राजू और अमरावती में प्रति दिन लड़ाई झगड़ा होता था. घटना से पहले देर रात भी दोनों में झगड़ा हो रहा था. घर से तेज शोर की आवाज़ें आ रही थीं.

सुबह घर पहुंची मां तो बक्शे में मिले शव
मृतका अमरावती की मां छोटकी देवी ने बताया कि राजू अमरावती से मारपीट करता था. उनके अनुसार अमरावती ने पिछली रात उन्‍हें फोन पर बताया था कि पति राजू उस पर मायके से रुपये लाने की मांग कर रहा है. जब उसने लाने से मना कर दिया था तो पति राजू से अमरावती को बेरहमी से पीटा. अमरावती ने मारपीट की सूचना दी. और कहा कि सुबह घर आउंगी. सुबह जब वह घर पहुंची तब तक अमरावती और दोनों बच्चों की हत्या पति द्वारा की जा चुकी थी. कमरे में मौजूद एक बक्‍से में अमरावती और उसकी 2 मासूम बेटियों नैना और सुनैना की लाशें अधजली हालत में पड़ी थी.

पुलिस कर रही जांच
बेटी की अधजली लाश देख अमरावती की मां ने सराय अकिल पुलिस समेत पुलिस के बड़े अफसरों को घटना की जानकारी दी. मौके पर पहुंची सराय अकिल पुलिस ने जांच-पड़ताल शुरू कर दी. शुरुआती जांच में अतिरिक्‍त एसपी अशोक कुमार के मुताबिक परिवारवालों के आरोपों को सही मानते हुए अमरावती और उसकी बेटियों की हत्या किए जाने की बात सामने आ रही है. आरोपी पति मौके पर नहीं मिला. मामले में दो लोगो की गिरफ्तारी की गई है. उनके अनुसार पुलिस शवों का पोस्टमार्टम कराकर मौत के सही कारणों का पता लगाकर दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेगी.