लखनऊ: उन्नाव इलाके के बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप के आरोप का मामला उत्तर प्रदेश की सियासत गरम है. 2010 में भी बसपा सरकार में इसी तरह की घटना हुई थी. यूपी के बांदा जिले के नरैनी विधायक पुरुषोत्तम द्विवेदी पर रेप का आरोप लगा था. 17 साल की लड़की के साथ उस समय के बसपा विधायक और उनके साथियों ने रेप किया था. तब बसपा विधायक ने पीड़िता को ही घर से चोरी के इल्ज़ाम में जेल भिजवा दिया था. मचे हंगामे के बाद घटना की तब सीएम रहीं मायावती ने सीबीसीआईडी जांच के आदेश दिए थे. उस समय बसपा विधायक ने बचने के लिए खुद को नपुंसक तक बता दिया था. उनका ये हथकंडा काम नहीं आया और 2015 में पूर्व विधायक को 10 साल की सजा हो गई. वो अब तक जेल में हैं.

ये था पूरा मामला, शीलू के पिता थे बसपा नेता
घटना 2010 की है. बांदा जिले के नरैनी के एक गांव शहबाजपुर की शीलू निषाद के पिता बसपा के कस्बा स्तर के कार्यकर्ता थे. वह बांदा की नरैनी से विधायक पुरुषोत्तम नाथ द्विवेदी का करीबी थे. पिता के साथ शीलू कभी-कभार विधायक के घर जाती थी. 2010 में शीलू किसी काम से विधायक के घर गई. इस दौरान शीलू निषाद से विधायक पुरुषोत्तम नाथ द्विवेदी ने दो बार रेप किया. तब शीलू की उम्र सिर्फ 17 वर्ष थी. बलात्कार के बाद शीलू को विधायक ने मोबाइल चोरी के आरोप में जेल भी भिजवा दिया था.

सीबीआई जांच में विधायक को पाया गया था दोषी, खुद को बताया था नपुंसक
तब भी यूपी की सियासत में तूफ़ान मचा था. तत्कालीन सीएम मायावती ने 2011 में विधायक को पार्टी से निष्कासित कर सीबीसीआईडी जांच के आदेश दिए थे. सजा से बचने के लिए विधायक ने खुद को नपुंसक बताया था. लेकिन उनकी ये दलील काम नहीं आई और 5 जून, 2015 को सीबीआई की विशेष कोर्ट ने आरोपी बसपा विधायक पुरुषोत्तम नरेश द्विवेदी सहित तीन को दोषी करार दिया. पूर्व बसपा विधायक को 10 साल की सजा और एक लाख रुपए जुर्माना लगाया था.

पुलिसकर्मी शीलू की सुरक्षा में तैनात रहते हैं. वह प्रधानी का चुनाव लड़ चुकी हैं. (फाइल फोटो)
पुलिसकर्मी शीलू की सुरक्षा में तैनात रहते हैं. वह प्रधानी का चुनाव लड़ चुकी हैं. (फाइल फोटो)

 

राहुल गांधी पहुंचे थे मिलने, सुरक्षा के लिए 10 सुरक्षाकर्मी रहते हैं तैनात
शीलू निषाद एक झोपड़ीनुमा घर में अकेली रहती हैं. शीलू की सुरक्षा में 10 सुरक्षाकर्मी हर समय तैनात रहते हैं. चार कांस्टेबिल, चार महिला कांस्टेबिल व दो एसआई हमेशा उनकी सुरक्षा में तैनात रहते हैं. शीलू कहती हैं कि मेरे साथ बलात्कार करने वाले विधायक का पक्ष ताकतवर था. उन्होंने मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी. कोई भी मेरी मदद को सामने नहीं आया. इसके बाद खुद ही परिवार व समाज के लोगों से दूरी बना ली. घटना के बाद राहुल गांधी उससे मिलने उसके गांव पहुंचे थे.

रिवाल्वर रखती हैं शीलू, बनाया नागिन गैंग
शीलू बताती हैं कि उनके साथ गलत काम करने वाले ताकतवर लोग हैं, वह कुछ भी कर सकते हैं. इसलिए आवेदन करने पर उन्हें रिवाल्वर का लाइसेंस मिल गया. वह रिवाल्वर अपने साथ रखती है. शीलू प्रधानी का चुनाव लड़ी लेकिन हार गई. इसके बाद उसने महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए नागिन गैंग बनाया, जो चल रहा है.

ये है उन्नाव विधायक पर रेप का मामला
इसी तरह उन्नाव के बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाया है. रविवार, 8 अप्रैल, 2018 को युवती ने विधायक पर कार्रवाई नहीं किए जाने पर लखनऊ में सीएम आवास के सामने सुसाइड का प्रयास किया. इसके एक दिन बाद ही युवती के पिता की उन्नाव में पुलिस कस्टडी में मौत हो गई. पुलिस ने रेप की शिकायत करने के बाद भी पीड़ित युवती के पिता को ही अरेस्ट कर लिया था. सीएम योगी आदित्यनाथ ने जांच के आदेश दिए हैं. वहीं बीजेपी विधायक ने युवती को निम्नस्तर का बताया है. मामले में एफआईआर दर्ज की गई, लेकिन उसमें बीजेपी विधायक का नाम नहीं आया है.