ह्यूस्टन: अमेरिका में एक शख्स ने 31 साल की मुस्लिम महिला को सड़क पर चाकू मार दिया. महिला एक नर्स थी. पुलिस ने बताया कि यह शख्स कथित रूप से मुस्लिमों के प्रति नफरत की भावना से ग्रसित था. हमलावर की गिरफ्तारी में मदद के लिये सूचना देने वालों को 5,000 डॉलर के इनाम की घोषणा की गई है.

ह्यूस्टन चैप्टर ऑफ द काउंसिल ऑन अमेरिकन – इस्लामिक रिलेशन्स (सीएआईअर – ह्यूस्टन) के अनुसार पीड़ित महिला पेशे से नर्स है. वह श्वेत है और उसने हिजाब पहन रखा था. उसने बताया कि बृहस्पतिवार की सुबह काम के बाद जब वह अपने घर के लिये लौट रही तभी अचानक बगल से लाल रंग की एक कार उसकी कार को लगभग छूते हुए गुजरी. महिला अपनी कार को हुए नुकसान को देखने के लिये बाहर निकली, तभी हमलावर भी अपने वाहन से बाहर निकला. उसने चिल्लाते हुए महिला पर आपत्तिजनक नस्ली और धार्मिक टिप्पणी की तथा अपशब्द कहे.

संगठन ने कहा कि महिला ने दूसरी ओर से अपने कार के अंदर जाने की कोशिश लेकिन कार का दरवाजा बंद था. हमलावर ने चाकू के हैंडल से महिला के कंधे एवं बाजुओं पर वार किया. वार गहरा था और महिला की धमनी कट गई, जिससे निकले रक्त के छींटे हमलावर पर भी आए. कार में बैठे एक अन्य यात्री ने बाहर आकर हमलावर को रोकने की कोशिश की और उसे कार के अंदर ले गया और फिर दोनों वहां से फरार हो गये.

महिला वापस अपने अस्पताल आयी , जहां उसके जख्मों का उपचार किया गया. हैरिस काउंटी शेरिफ का कार्यालय मामले की जांच कर रहा है. दोनों आरोपी श्वेत थे और उनकी उम्र 20 से 35 साल के बीच थी.  सीएआईआर – ह्यूस्टन के कार्यकारी निदेशक मुस्तफा कैरोल ने कहा, हम आशा करते हैं कि जिस किसी को भी इस संभावित घातक और पूर्वाग्रह से ग्रसित हमले के बारे में कोई भी सूचना मिलती है तो वह तुरंत जांच अधिकारियों से संपर्क करे.