लंदन. दक्षिण-पश्चिम लंदन स्थित एक भूमिगत रेलवे स्टेशन पर एक ट्रेन में शुक्रवार को हुए आईईडी विस्फोट में कम से कम 22 यात्री घायल हो गये. स्कॉटलैंड यार्ड ने इसे ‘आतंकवादी घटना’ बताया है. यह घटना पारसंस ग्रीन स्टेशन पर डिस्ट्रिक्ट लाइन टयूब ट्रेन में व्यस्त घंटे के दौरान हुई. स्कॉटलैंड यार्ड ने कहा ‘पारसंस ग्रीन स्टेशन पर एक लंदन भूमिगत ट्रेन में संदिग्ध ‘बाल्टी बम’ के कारण यह विस्फोट हुआ और इस घटना को ‘आतंकवादी हमले’ के रूप में लिया जा रहा है.

लंदन एंबुलेंस सेवा ने बताया कि 18 लोगों को अस्पताल ले जाया गया है व चार और लोग खुद से अस्पताल पहुंचे है. इस घटना में ज्यादातर लोग झुलस गये है. सहायक आयुक्त मार्क रोली ने बताया कि उन्होंने आईईडी से विस्फोट किये जाने का ‘आकलन’ किया है. उन्होंने कहा कि लंदन में और पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है लेकिन उन्होंने किसी को गिरफ्तार किये जाने पर कुछ कहने से इनकार किया.

 

ब्रिटिश मीडिया ने कुछ तस्वीरें जारी की हैं जिनमें ट्रेन के डिब्बे में एक सुपरमार्केट बैग के भीतर रखी गई सफेद रंग की बाल्टी से आग निकलती दिख रही है और बाल्टी में से निकलते हुए कुछ तार ट्रेन के फर्श पर फैले नजर आ रहे हैं. स्कॉटलैंड यार्ड का आतंकवाद निरोधक दस्ता, एसओ 15 पारसंस ग्रीन टयूब स्टेशन पर पहुंचा और ब्रिटिश परिवहन पुलिस से जांच के सिलसिले में जानकारी ली.

मेट्रोपोलिटन पुलिस ने एक बयान में कहा ‘उप सहायक आयुक्त नील बासु, आतंकवाद निरोधक पुलिसिंग के वरिष्ठ राष्ट्रीय समन्वयक ने इसे एक आतंकवादी घटना बताया है.’ बयान में कहा गया है कि मेट्रोपोलिटन पुलिस सेवा और ब्रिटिश परिवहन पुलिस लंदन दमकल और लंदन एंबुलेंस सेवा के सहयोगियों के साथ मौके पर पहुंची. बयान में कहा गया है कि आग लगने के कारण की पुष्टि करना अभी जल्दबाजी होगा. अभी यह जांच का विषय है. स्टेशन को घेर लिया गया है और हम लोगों को क्षेत्र में जाने से बचने की सलाह दे रहे है.

 

डाउनिंग स्ट्रीट ने बताया कि प्रधानमंत्री थेरेसा मे स्थिति के बारे में ‘नियमित रूप से जानकारी’ प्राप्त कर रही है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया ‘पारसंस गार्डन में घायल हुए लोगों के साथ मेरी सहानुभूति है.’ मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने टि्वटर पर लिखा है, ‘हमें सोशल मीडिया पर चल रही पारसंस ग्रीन स्टेशन की खबर है. जब संभव होगा, हम सूचनाएं साझा करेंगे— हमारी सूचनाएं सच होनी चाहिए.’ मेट्रोपॉलिटन पुलिस बम निरोधक दस्ता और दमकल विभाग एंबुलेंस के साथ मौके पर पहुंच गये. स्टेशन के बाहर मौजूद प्रत्यक्षदर्शी दुकानदारों का कहना है कि उन्होंने कुछ घायल लोगों को देखा. कई लोगों को पुलिस से हरी झंडी मिलने तक दुकानें बंद रखने को कहा गया है.

यात्री क्रिस विलडिश ने बीबीसी को बताया कि उन्होंने ट्रेन के पीछे के एक डिब्बे के दरवाजे से एक सुपरमार्केट बैग में एक बाल्टी से हल्की लपटें निकलती देखीं.