इस्लामाबाद: पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान तहरीके इंसाफ पार्टी के मुखिया इमरान खान की शिव के अवतार में एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है, लेकिन इसके चलते पाकिस्तान में हंगामा हो रहा है. यहां तक कि संसद में इस पर गर्मागर्म बहस के बाद फेडरल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी को इसकी जांच करने को कहा गया है.

हिंदुओं ने की माफी की मांग
इमरान खान की यह तस्वीर वायरल होने के बाद पूरे पाकिस्तान में हिंदू समुदाय इसका विरोध कर रहा है. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार बुधवार को पाकिस्तानी संसद में इस पर खूब हंगामा हुआ. विपक्षी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता रमेश लाल ने सत्ताधारी दल पर हिंदुओं की भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया.  उन्होंने यह भी कहा कि यह देश के संविधान के खिलाफ है और मामले में ईशनिंदा कानून के तहत कार्रवाई होनी चाहिए.

तस्वीर किसने डाली, यह भी स्पष्ट नहीं
इमरान की मॉर्फ की हुई तस्वीर फेसबुक पर जिस पेज पर शेयर की गई है, वह पाकिस्तान मुस्लिम लीग के समर्थकों का है. वी लव नवाज शरीफ, शाहबाज शरीफ एंड पीएमएल (एन) पेज पर यह तस्वीर 8 अप्रैल को पोस्ट की गई थी. इसके बाद से सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर यूजर इसके खिलाफ लिख रहे हैं और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग भी कर रहे हैं. अधिकांश लोग इसके लिए पीएमएल (एन) के साइबर विंग को जिम्मेदार मान रहे हैं.

संसद ने दिया जांच का आदेश
तस्वीर पर हंगामा मचने के बाद पाकिस्तानी संसद ने फेडरल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी को इसकी जांच करने का आदेश दिया है. नेशनल एसेंबली के स्पीकर सरदार अयाज सादिक ने गृह मंत्री तलाल चौधरी को भी इस मामले में रिपोर्ट देने को कहा है. हालांकि, विरोध के बाद इस तस्वीर को फेसबुक पेज से हटा लिया गया है.