इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने कथित भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव मामले की छह सप्ताह के भीतर दोबारा सुनवाई की मांग को लेकर अंतर्राष्ट्रीय अदालत यानी आईसीजे में शुक्रवार को एक याचिका दाखिल की है। एक खबर के मुताबिक अंतर्राष्ट्रीय अदालत द्वारा गुरुवार को जाधव की फांसी पर रोक लगाने के बाद पाकिस्तान ने मामले में आईसीजे के अधिकार क्षेत्र को दोबारा चुनौती देने की पूरी तैयारी कर ली है।

कानून के मुताबिक, जाधव अपीली अदालत में अपनी मौत की सजा के खिलाफ शनिवार के अंत तक अपील कर सकते हैं। कथित तौर पर जासूसी और आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्तता को लेकर पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने कुलभूषण जाधव को 10 अप्रैल को मौत की सजा सुनाई थी।

खबर के मुताबिक अपीली अदालत के फैसले के 60 दिनों के भीतर दोषी को पाकिस्तानी सेना प्रमुख के समक्ष दया याचिका दाखिल करने का अधिकार है। मौत की सजा का सामना कर रहे दोषी सेनाप्रमुख के फैसले के 90 दिनों के भीतर राष्ट्रपति के समक्ष दया की अपील कर सकते है।