इस्लामाबाद| पाकिस्तान ने शुक्रवार को कहा कि कथित भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव ‘पूरी तरह से मानवीय आधार पर’ अपनी पत्नी से मुलाकात कर सकते हैं. कुलभूषण यादव को पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस संबंध में यहां भारतीय उच्चायोग को सूचित कर दिया गया है.

मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, पाकिस्तान सरकार ने पूरी तरह मानवीय आधार पर पाकिस्तान में कमांडर कुलभूषण जाधव को उनकी पत्नी से मुलाकात कराने का निर्णय लिया है. इस्लामाबाद ने कहा था कि कथित रूप से भारतीय नौसेना के अधिकारी और बाद में भारतीय खुफिया एजेंसी रिसर्च और एनालिसिस विंग (रॉ) से जुड़ने वाले जाधव को पाकिस्तान में अवैध रूप से घुसपैठ के बाद 3 मार्च, 2016 को गिरफ्तार किया गया था.

बयान के अनुसार जाधव ने पाकिस्तान अदालत में इस बात को ‘स्वीकारा’ था कि उसे भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ ने पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध छेड़ने, अस्थिर करने के उद्देश्य से जासूसी, आतंकवादी और तोड़फोड़ की गतिविधियों के समन्वय और आयोजन के लिए कहा था.