नई दिल्ली: पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में आए दिन आतंकी घटनाएं देखने को मिलती रहती हैं.  वहां आम आदमी तो दूर वीवीआईपी की जान पर भी हमेशा खतरा मंडराता रहता है. हालात ये हो गए हैं कि अब वहां के मंत्री भी अपनी सुरक्षा के लिए गार्ड के रूप में किसी गैर मुस्लिम की मांग कर रहे हैं. पाकिस्तान में पंजाब प्रांत के कानून मंत्री राणा सनाउल्लाह ने खुद की सुरक्षा के लिए गैर मुस्लिम गार्ड्स की तैनाती की मांग की है. 

BJP के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन को जान से मारने की धमकी

BJP के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन को जान से मारने की धमकी

सनाउल्लाह को मुस्लिम चरमपंथियों से मिली धमकी

बता दें कि हाल की में सनाउल्लाह को मुस्लिम चरमपंथियों से धमकी मिली थी. इस धमकी के बाद सनाउल्लाह का भरोसा अपनी सुरक्षा में लगे सुरक्षागार्डों से भी उठ गया है. जिसके बाद सनाउल्लाह ने अपनी सुरक्षा के लिए गैर मुस्लिम गार्ड्स की तैनाती की मांग की है. साथ ही उनसे जुड़ी हर तरह की जानकारी भी मांगी है.

सनाउल्लाह को धमकी मिलने के बाद वहां की खुफिया एजेंसियां भी सतर्क हो गई हैं और वे मंत्री के सुरक्षा गार्ड्स के बैकग्राउंड की  पूरी जानकारी इकट्ठा कर रही हैं. सूत्रों का कहना है कि सनाउल्लाह संतुष्ट नहीं हैं और उन्होंने पहले ही पर्सनल सुरक्षा गार्ड्स को हायर किया है. सनाउल्लाह ने पुलिस चीफ से पंजाब प्रांत के ऐसे सुरक्षा अधिकारियों की लिस्ट भी मांगी है जो मुस्लिम धर्म छोड़कर किसी और धर्म जैसे, हिंदू, ईसाई या अहमदिया समुदाय के हों.

गौरतलब है कि मंत्री सनाउल्लाह कुछ हफ्ते पहले तब सुर्खियों में आए जब एक टीवी साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि मुस्लिम और अहमदिया में थोड़ा सा फर्क है. पाकिस्तान में अहमदिया समुदाय को अधर्मी माना जाता है. ऐसे में प्रांतीय मंत्री के इस बयान के बाद देशभर में उनका विरोध किया गया. कई संगठन ने उनके इस्तीफे की मांग की.