नई दिल्ली। हसन रूहानी लगातार दूसरी बार ईरान में राष्ट्रपति चुनाव जीत गए हैं. रूहानी ने अपने प्रतिद्वंदी कट्टरपंथी मौलवी व पूर्व अभियोजक इब्राहिम रेसी को हराया है. रूहानी ने शनिवार को वोटों की गिनती के शुरुआती रझानों में ही शानदार बढ़त बना ली थी और उनकी जीत पक्की मानी जा रही थी.

ईरान के सरकारी टेलीविजन ने रूहानी को देश में राष्ट्रपति पद के चुनाव का विजेता घोषित किया. सरकारी टीवी ने मतों के आंकड़ों के आधार पर शनिवार एक संक्षिप्त बयान में उन्हें बधाई दी.

68 वर्षीय रूहानी देश में व्यापक राजनीतिक आजादी एवं बाहरी दुनिया के देशों के साथ मधुर संबंधों के अपने वादे से ज्यादा उदारवादी और सुधारवादी मानसिकता वाले ईरानियों के लिए उम्मीद बनकर उभरे हैं. रूहानी वर्ष 2013 में पहली बार ईरान के राष्ट्रपति बने थे.

ईरान में शुक्रवार को हुए वोटिंग में 70 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. ईरान का राष्ट्रपति देश की राजनीतिक प्रणाली में दूसरा सबसे शक्तिशाली नेता होता है.

भाषा से इनपुट के साथ