नई दिल्ली। रूस ने रविवार को अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा है कि सीरिया में अपने विमानन क्षेत्र पर अतिक्रमण कर रहे किसी भी अमेरिकी या उसके सहयोगी जेट विमानों को वह निशाना बनाएगा. रूस के रक्षा मंत्रालय की ओर से कहा गया कि अमेरिकी हमले में सीरियाई युद्ध विमान को निशाना बनाए जाने के बाद रूस अमेरिका की गठबंधन सेना के विमानों को निशाना बनाएगा.

अमेरिका की गठबंधन सेना ने रविवार को सीरिया के उत्तरी शहर रक्का में सीरियाई युद्धविमान को मार गिराया था. सीरियाई सेना के जनरल कमान के मुताबिक, अमेरिका के नेतृत्व में गठबंधन सेना ने रविवार को रक्का में सीरियाई युद्धविमान को मार गिराया. सीरिया का युद्ध विमान आतंकवादी संगठन (आईएस) के खिलाफ अभियान पर था.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने सीरियाई सेना के हवाले से बताया कि अमेरिकी गठबंधन सेना द्वारा सीरियाई युद्ध विमान को मार गिराया जाना इस बात का साक्ष्य है कि अमेरिका किस प्रकार आतंकवादी संगठनों को मदद दे रहा है.

सेना की ओर से जारी बयान के मुताबिक, “यह हमला ऐसे वक्त में हुआ है, जबकि सीरियाई सेना आईएस से लोहा ले रही है.”

आईएएनएस से इनपुट के साथ