नई दिल्ली. केंद्रीय कर्मचारियों के लिए नए वित्तीय वर्ष 2018-19 का पहला महीना खुशखबरी लेकर आएगा. वित्त मंत्री के अनुसार केंद्र सरकार के लाखों कर्मचारियों को अप्रैल 2018 से सातवें वेतन आयोग के तहत बढ़ा हुआ वेतन मिलने लगेगा. केंद्र सरकार के करीब 34 लाख कर्मचारी और रक्षा सेवा से जुड़े 14 लाख पेंशनर पिछले कई महीनों से नए वेतनमान का इंतजार कर रहे हैं.
वित्त मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार केंद्रीय कर्मचारियों के लेवल 1 से लेकर लेवल 5 तक के कर्मचारियों को इस बढ़े हुए वेतन का लाभ मिलेगा. केंद्रीय कैबिनेट ने पिछले साल जून में केंद्रीय कर्मियों की वेतन बढ़ोतरी को मंजूरी दी थी. सातवें वेतन आयोग के तहत वेतन बढ़ाने से सरकार पर करीब 30 हजार 748 करोड़ का भार पड़ेगा. केंद्रीय कर्मचारियों को बढ़े हुए वेतन का लाभ 1 जुलाई 2017 की तारीख से मिलेगा. Also Read - Coronavirus: भारत सरकार ने 'हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वाइन' मेडिसिन की ब्रिकी पर लगाया प्रतिबंध

बेसिक पे 7 से बढ़कर 18 हजार होगा
केंद्र सरकार द्वारा सातवें वेतन आयोग के प्रावधान लागू करने से केंद्रीय कर्मियों के मूल वेतन में अच्छी-खासी बढ़ोतरी होगा. जानकारों के अनुसार नए नियमों के तहत अब केंद्रीय कर्मियों का बेसिक पे 7 हजार रुपए से बढ़कर 18 हजार रुपए हो जाएगा. हालांकि केंद्रीय कर्मचारी बेसिक पे को 18 के बजाए 26 हजार रुपए करने की मांग कर रहे हैं. बता दें कि केंद्रीय कर्मियों को फिटमेंट फॉर्मूला के आधार पर बेसिक पे मिलता है. छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक, यह बेसिक का 2.57 गुना है. खबर है कि सरकार लोअर लेवल के कर्मचारियों के लिए फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाकर 3 फीसदी कर सकती है. Also Read - सरकार ने दी राहत, किसानों को 2000 रुपए की पहली किस्त अप्रैल के पहले हफ्ते में ही मिलेगी

Also Read - EPF से निकासी के नियम बदलेगी सरकार, 75% तक रकम आसानी से ऐसे निकाल पाएंगे