Seat belt challan Delhi: अगर आप कार वाले हैं और उसे दिल्ली लेकर जा रहे हैं. साथ ही पिछली सीट पर कोई बैठा हुआ है तो जिस तरह से आपने सीट बेल्ट लगाई है उसी तरह से पीछे बैठी सवारी को भी सीट बिल्ट बांधने के लिए बोल दीजिए. नहीं तो लेने के देने पड़ जाएंगे और आपको अपनी जेब से जुर्माना जमा करना पड़ेगा.Also Read - Bulli Bai App Case: बुल्ली बाई एप के आरोपी सु्ल्ली डील एप में भी थे शामिल, मुंबई पुलिस ने कोर्ट को दी ये जानकारी

बता दें, सुरक्षा के लिहाज से पहले सिर्फ आगे बैठने वालों को सीट बेल्ट लगानी पड़ती थी, लेकिन अब राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पीछे बैठने वालों को भी सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य कर दिया गया है. अगर पीछे बैठी सवारी ने सील्ट बेल्ट नहीं लगाई है तो आपको 1,000 रुपये तक का जुर्माना देना पड़ सकता है. अगर आप राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ड्राइविंग कर रहे हैं, तो आपको इन नियमों का पालन करना होगा. Also Read - गाजीपुर में IED मिलने का मामला: टेलीग्राम पर अलकायदा से जुड़े संगठन ने ली जिम्मेदारी, दिल्ली पुलिस जांच में जुटी

दिल्ली पुलिस ने इस नियम को लेकर पिछले हफ्ते ही नोटिस जारी कर दिया है. इस नियम का मकसद रोड सुरक्षा और सेफ ड्राइविंग को सुनिश्चित करना है. पश्चिमी दिल्ली में इस नियम को सबसे पहले लागू किया गया है. यहां यह नियम 13 जनवरी से ही लागू किया गया है. अब सीट बेल्ट न पहनने पर दिल्ली पुलिस 1,000 हजार रुपये का भारी भरकम चालान काट सकती है. दिल्ली पुलिस का प्लान अब इस नियम को पूरी राजधानी में लागू करने का है. Also Read - Traffic advisory Republic Day Parade 2022: गणतंत्र दिवस परेड रिहर्सल को लेकर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी, दिल्ली के इन रास्तों पर आवाजाही रहेगी बंद

रीयरव्यू मिरर नहीं होने पर कटेगा दो पहिया वाहन का चालान

इसके अलावा अब अगर आपने अपनी मोटरसाइकिल और स्कूटर में रीयरव्यू मिरर नहीं लगवाएं हैं तो आप आपका भी चालान काटा जा सकता है. दिल्ली पुलिस ने इस नए नियम को लागू कर दिया है, जिसके मुताबिक, रीयरव्यू मिरर लगाना अब जरूरी होगा. अगर आपने इस नियम का पालन नहीं किया तो आपका चालान कट सकता है.