नई दिल्ली. बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती ने 15 जनवरी को अपने जन्मदिन पर केंद्र में काबिज बीजेपी सरकार और विपक्षी कांग्रेस पर निशाना साधने में कोई कसर नहीं छोड़ी. मायावती ने मोदी के नारे ‘हर हर मोदी-घर घर मोदी’ पर तंज कसा. उन्होंने कहा कि ‘हर हर मोदी-घर घर मोदी’ वाले मोदी जी इस बार गुजरात में बेघर होते-होते बचे.

मायावती ने कांग्रेस पर भी वार किया और कहा कि आजादी के बाद से कांग्रेस और अब बीजेपी ने हर वर्ग को नुकसान पहुंचाया है. आज हर राज्य में सांप्रदायिक और जातिवादी माहौल बनाया जा रहा है. मायावती ने सोमवार को नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह गुजरात में बेघर होने से वह बच गए लेकिन आगे ऐसा नहीं होगा. मायावती ने कहा कि बीजेपी सांप्रदायिकता एवं जातिवाद को बढ़ावा देकर समाज को बांटने का काम कर रही है.

मायावती ने सोमवार को लखनऊ में अपने 62वें जन्मदिन पर केक काटने के बाद अपनी पुस्तक का विमोचन भी किया. लखनऊ बीएसपी मुख्यालय में इस अवसर पर उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए यह बातें कही.

मायावती ने कहा, ‘देश में आजादी के बाद से ही कांग्रेस तथा भारतीय जनता पार्टी ने हर वर्ग को बड़ा नुकसान पहुंचाया है. हर राज्य में यह दोनों पार्टी सांप्रदायिक तथा जातिवाद को बढ़ावा देकर समाज को बांटने का काम कर रही हैं. बीएसपी ही एक ऐसी अकेली पार्टी है जो बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर के रास्ते पर चलती आ रही है.’

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी तो बड़ी-बड़ी बातें करने में उस्ताद हैं. ‘हर-हर मोदी, घर-घर मोदी’ का नारा देने वाले नरेंद्र मोदी जी इस बार तो गुजरात में बेघर होने से बच गए लेकिन आगे के लिए वह सतर्क रहें. एक वर्ष के अंतराल के बाद मायावती का जन्मदिन पूरे उत्तर प्रदेश में धूमधाम से मनाया जा रहा है. उनके 62वें जन्मदिन को पार्टी जन कल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया जा रहा है. जिले-जिले में इस दौरान समारोह होंगे. जिला मुख्यालयों पर कार्यक्रम होंगे.

पार्टी की तरफ से केक काटने के अलावा जन कल्याणकारी दिवस पर असहाय के साथ जरूरतमंद लोगों की मदद करने का निर्देश दिया गया है. कार्यक्रम में भीड़ जुटाने के लिए विधानसभा क्षेत्रवार कोटा निर्धारित किया गया है। सभी प्रमुख नेताओं से अपने क्षेत्र में रहने को कहा गया है.

बीएसपी प्रमुख मायावती आज अपने जन्मदिन पर बीएसपी की ब्लू बुक ‘मेरे संघर्षमय जीवन’ और ‘बीएसपी मूवमेंट का सफरनामा भाग-13’ का विमोचन किया. इसे ब्लू बुक का नाम दिया गया है. यह पुस्तक हिंदी और अंग्रेजी भाषा में प्रकाशित की गई है. जिला केंद्रों पर जन कल्याणकारी दिवस कार्यक्रमों को सफल बनाने के साथ निगरानी का जिम्मा पार्टी समन्वयक को सौंपा गया है.

बता दें कि इससे पहले 12 जनवरी को भी मायावती ने पूर्ववर्ती सरकार और बीजेपी पर हमला किया था. उन्होंने एसपी सरकार और मौजूदा बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि उत्तर प्रदेश के करोड़ों किसान अपनी पैदावार का सही मूल्य नहीं मिल पाने के कारण तंगी, बदहाली व संकट का शिकार हैं लेकिन योगी सरकार एसपी के सैफई महोत्सव की तर्ज पर सरकारी धन को गोरखपुर महोत्सव में लुटा रही है.

उन्होंने कहा कि किसान मजबूरी में अपने उत्पाद को विधानसभा के सामने फेंककर प्रबल विरोध दर्ज करा रहे हैं, लेकिन प्रदेश की योगी सरकार इन समस्याओं पर ध्यान न देकर सपा सरकार की तरह गोरखपुर महोत्सव पर सरकारी धन व संसाधन लुटाने में मस्त नजर आ रही है.

मायावती ने अपने बयान में कहा कि उत्तर प्रदेश में अपार जनसमस्याओं के साथ अपराध-नियंत्रण, कानून-व्यवस्था व विकास कार्यो का बहुत ही बुरा हाल है, लेकिन केंद्र की तरह प्रदेश सरकार भी इन मामलों में गंभीर व जिम्मेदार नहीं होकर केवल कोरी बयानबाजी व गैर-जनहित के कार्यो में सरकारी धन, संसाधन व शक्ति का दुरुपयोग कर रही है.

(IANS से प्राप्त जानकारी के साथ)