बेंगलुरु. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में कांग्रेस सरकार पर लगे आरोपों के बाद जवाब देने के लिए खुद सीएम सिद्धारमैया सामने आए. सिद्धारमैया ने कर्नाटक में कांग्रेस सरकार के शासन काल के दौरान हुई उपलब्धियों का जिक्र किया और सरकार पर लगे आरोपों पर पलटवार भी किया. सिद्धारमैया ने कहा कि जब हमारी सरकार कर्नाटक में आई थी, निवेश सूची में हम 11वें पायदान पर थे लेकिन बीते 2 साल में हम नंबर 1 हो गए हैं. ये आंकड़ा खुद केंद्र सरकार ने जारी किया है. 

मोदी की रैली से ठीक पहले पकौड़ा बेचने लगे छात्र, पुलिस ने खदेड़ा

मोदी की रैली से ठीक पहले पकौड़ा बेचने लगे छात्र, पुलिस ने खदेड़ा

Also Read - Bihar Munger Violence: संजय राउत ने पूछा-मुंगेर की घटना पर भाजपा नेता ना सवाल कर रहे, ना बवाल, क्यों

Also Read - Bihar Polls 2020: दूसरे फेज के चुनाव से पहले नीतीश कुमार ने खेला आबादी के हिसाब से आरक्षण का दांव, कही यह बात...

सिद्धारमैया ने आगे कहा कि प्रिय नरेंद्र मोदी जी, देश का प्रधानमंत्री होने के नाते आपके शब्दों में विश्वसनीयता होनी चाहिए. मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप अपने लगाए गए आरोपों को साबित करें. पीएम मोदी ने बेंगलुरु की रैली में सिद्धारमैया सरकार पर भ्रष्टाचार और कुशासन के आरोप लगाए थे. सिद्धारमैया ने चुनौती भरे लहजे में कहा कि ये चुनाव हमें मर्यादा और तथ्यों के आधार पर लड़ने दीजिए. Also Read - चिराग की चुटकी- 'जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कहेंगे BJP का मुझसे कुछ लेना-देना नहीं, तब मानेंगे नीतीश?'

पीएम ने कर्नाटक में रैली कर हत्याओं पर भी टिप्पणी की थी. सिद्धारमैया ने कहा कि उनके शासनकाल में कितने लोग मारे गए? 2 हजार और हरियाणा में कानून व्यवस्था की क्या स्थिति है? बीजेपी जहां कहीं भी सत्ता में है, अल्पसंख्यकों के लिए कोई सुरक्षा नहीं है. सिद्धारमैया ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष की संलिप्तता मर्डर केस में रही है, वह सिर्फ झूठ बोलते हैं. यहां भी (कर्नाटक में) वो ऐसे शख्स को सीएम कैंडिडेट के रूप में प्रोजेक्ट कर रहे हैं जो जेल जा चुका है. उन्होंने कहा कि पीएम ने राज्य को लेकर कई झूठ बोले हैं और उन्होंने कर्नाटक के गर्व को आहत किया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कर्नाटक में चुनाव को बिगुल बजाते हुए लोगों से भ्रष्ट और वंशवादी कांग्रेस को प्रदेश की सत्ता से बेदखल करने का आह्वान किया था. प्रदेश में अप्रैल के अंत या मई की शुरुआत में विधानसभा चुनाव हो सकता है. मोदी ने यहां एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘मैं कर्नाटक के लोगों से कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने की अपील करता हूं. प्रदेश की सत्ता से कांग्रेस को बेदखल करने की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है.’

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की ओर से बेंगलुरु के पैलेस ग्राउंड में कड़ी सुरक्षा के बीच आयोजित एक रैली में एक लाख से ज्यादा लोग मोदी का भाषण सुनने पहुंचे थे. करीब एक घंटा हिंदी में दिए अपने भाषण में मोदी ने कांग्रेस पर ताबड़तोड़ हमले किए और कहा कि देश में इसकी संस्कृति की अब कोई जरूरत नहीं है.

मोदी ने कहा, ‘भारत को अब कांग्रेस की संस्कृति की जरूरत नहीं है. इसने राष्ट्र को बर्बाद कर दिया है. अगर कांग्रेस का सफाया करना है तो प्रदेश को कांग्रेसमुक्त करना होगा.’