बेंगलुरु. आयकर विभाग ने कर चोरी एक मामले से जुड़ी अपनी जांच के सिलसिले में आज कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री डी के शिवकुमार के कर्नाटक और दिल्ली स्थित कई ठिकानों की तलाशी ली, जिनकी मेजबानी में यहां से निकट एक रिसॉर्ट में गुजरात के 44 कांग्रेस विधायक ठहरे हुए हैं. कांग्रेस ने रेड का जमकर विरोध किया है और बुधवार को संसद के दोनों सदनों में इस मामले को उठाने का फैसला भी पार्टी कर चुकी है.Also Read - Karnataka में सियासत, विपक्षी दल कांग्रेस के नेता बैलगाड़ी से पहुंचे विधानसभा

दिल्ली आवास से मिले 5 करोड़
बुधवार सुबह की गई छापेमारी से अवगत एक अधिकारियों ने बताया कि आयकर विभाग के अधिकारियों की एक टीम मंत्री से पूछताछ के लिए समीपवर्ती इगलटन रिसॉर्ट पहुंची. कांग्रेस नेता रात को रिसॉर्ट में ही ठहरे हुए थे. पीटीआई के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक आईटी सूत्रों ने जानकारी दी है कि कर्नाटक के मंत्री के दिल्ली आवास से 5 करोड़ रुपए बरामद भी किए गए हैं. Also Read - Video: कर्नाटक कांग्रेस अध्‍यक्ष डीके शिव कुमार ने कार्यकर्ता को जड़ा थप्‍पड़, देखें क्‍या है वजह

रिसॉर्ट में छापेमारी नहीं
अधिकारियों ने बताया, ‘रिसॉर्ट में छापेमारी नहीं हो रही है.’ उन्होंने बताया कि केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की मदद से आयकर विभाग के करीब 120 अधिकारियों का दल मंत्री और उनके परिवार के 39 ठिकानों पर छापे मार रहा है. विभाग आठ अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनावों में धन बल के कथित इस्तेमाल और बड़े पैमाने पर अवैध धन की लेनदेन के आरोपों की जांच भी कर रहा है. Also Read - Breaking News: अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू के घर आयकर का छापा, तलाशी जारी

शिवकुमार ही विधायकों के मेजबान
शिवकुमार राज्यसभा चुनाव तक बेंगलुरु के रिजॉर्ट में लाये गये गुजरात के अपने पार्टी विधायकों की मेजबानी कर रहे हैं. कांग्रेस की गुजरात इकाई के छह विधायकों के पार्टी छोड़ने के बाद अन्य पार्टी विधायकों को यहां लाया गया. गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में गुजरात के 57 में से छह कांग्रेस विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया, जहां से वरिष्ठ पार्टी नेता अहमद पटेल चुनाव लड़ रहे हैं. इनमें से तीन शुक्रवार को भाजपा में शामिल हो गये. पार्टी को आशंका है कि अधिक विधायकों के दल बदलने से पटेल की जीत की संभावनाओं पर असर पड़ेगा.

बीजेपी पर हमला तेज
हालांकि रेड को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा. इनकम टैक्स की रेड पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता और गुजरात से राज्यसभा उम्मीदवार अहमद पटेल ने कहा कि ”यह ‘रेड राज’ है. यह सरकार हर किसी को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से डराना चाहती है, वो भी सिर्फ एक राज्यसभा सीट जीतने के लिए. पटेल सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार भी हैं. पटेल ने कहा कि सरकारी मशीनरी और बाकी एजेंसियों के इस्तेमाल से बीजेपी ने अपनी अपनी निराशा और कुंठा का प्रदर्शन ही किया है.

पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी गुजरात में राज्यसभा सीट जीतने के लिए हर गंदी और भद्दी ट्रिक का सहारा ले रही है. गुजरात में कांग्रेस विधायकों को पैसों के बल पर खरीदने की कोशिश की गई, जब कोशिश फेल हो गई तो भड़की हुई बीजेपी सरकार रेड का सहारा ले रही है.

गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने अपने 42 विधायकों को टूटने से बचाने के लिए बेंगलुरु के ईगल्टन रिजॉर्ट में शिफ्ट किया है. कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी उन पर कई तरह से दबाव डाल रही थी और चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रही है. यह रिजॉर्ट शहर से 60 किमी की दूरी पर स्थित है. सभी विधायकों के कर्नाटक के डीके ब्रडर्स डी शिवकुमार और डी शुरेश की देखरेख में शिफ्ट किया गया है.

250 करोड़ की संपत्ति
डीके शिवकुमार कर्नाटक सरकार में ऊर्जा मंत्री हैं और उनके भाई डीके सुरेश बेंगलुरु ग्रामीण सीट से सांसद हैं. ईगल्टन रिजॉर्ट डीके सुरेश की संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत ही आता है. डीके शिवकुमार को कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री भी माना जा रहा है और दिल्ली में कांग्रेस के बड़े नेताओं से उनके अच्छे संबंध बताए जा रहे हैं. डीके शिवकुमार ने विधानसभा चुनाव में अपनी घोषित संपत्ति 250 करोड़ रुपये बताई थी.