बेंगलुरू. केंद्र व राज्य में एक ही पार्टी की सरकार के शासन पर जोर देते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को मतदाताओं से राज्य के तीव्र विकास के लिए आगामी कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी को फिर से वोट देने का आग्रह किया. यहां पार्टी की एक रैली में उन्होंने कहा, ‘यदि यहां बीजेपी का शासन होगा तो कर्नाटक को गुजरात व हिमाचल की तरह फायदा होगा, जो केंद्र की राजग सरकार व प्रधानमंत्री मोदी के गतिशील नेतृत्व में आगे बढ़ रहे हैं.’ Also Read - सुनवाई में 61 बार गैरमौजूद रहे हार्दिक पटेल नहीं जा सकेंगे गुजरात से बाहर, कोर्ट ने खारिज की अर्जी

योगी आदित्यनाथ ने बीजेपी के 90 दिनों के राज्यव्यापी ‘नव कर्नाटक निर्माण परिवर्तन यात्रा’ के तहत लगभग 50 हजार लोगों की एक सभा को संबोधित किया. आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस के शासन के तहत बीते 4 साल से कर्नाटक का विकास रुक गया है, जो मोदी सरकार की कई योजनाओं को लागू करने में विफल रही है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने राज्य के बेंगलुरू व अन्य 9 शहरों को अपनी महत्वाकांक्षी स्मार्ट सिटी परियोजना में शामिल किया है, फिर भी राज्य सरकार ने इस राशि के इस्तेमाल या राज्य में जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए कोई कार्य नहीं किया है. Also Read - UP: योगी आदित्यनाथ का बड़ा ऐलान-ग्रेटर नोएडा में बनेगी फिल्म सिटी, कंगना ने की थी तारीफ

आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस सरकार लोगों को जाति व धर्म के आधार पर ध्रुवीकरण करने में व्यस्त है और कानून-व्यवस्था की बदतर स्थिति को रोकने में विफल रही है. इनके पास राज्य के विकास के लिए समय नहीं है, जो ज्ञान के क्षेत्र खास तौर से आईटी व बॉयोटेक में अभूतपूर्व विकास के लिए जाना जाता है. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस से सत्ता हासिल की और गुजरात में रिकॉर्ड छठीं बार जीत दर्ज की है. Also Read - कंगना रनौत ने योगी आदित्यनाथ की प्रशंसा की, ट्वीट में लिखा-आपके फैसले के लिए थम्स अप

बीजेपी ने 2008 में पहली बार कर्नाटक में सत्ता में आई और 3 मुख्यमंत्रियों के साथ 5 साल के बाद कांग्रेस के हाथों 2013 के चुनाव में हार गई. बीते साल 21 दिसंबर को हुबली में बीजेपी की रैली को संबोधित करने के बाद आदित्यनाथ राज्य में दूसरी बार सभा को संबोधित कर रहे हैं.

कर्नाटक राज्य इकाई के अध्यक्ष बी.एस. येदियुरप्पा, केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार व डी.वी. सदानंद गौड़ा, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री व राज्य के पार्टी प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर व राज्य इकाई के नेता जगदीश शेट्टार, के.एस. ईश्वरप्पा व ए.आर. अशोक ने भी रैली को संबोधित किया.