पटना: बिहार के 12 जिलों में आयी बाढ़ से अबतक 102 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 72 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. आपदा प्रबंधन विभाग से बुधवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार के 12 जिले शिवहर, सीतामढी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया एवं कटिहार में अबतक 78 लोगों की मौत के साथ कुल 102 लोगों की मौत हुई है जबकि लगभग 72 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. Also Read - 'जेल से NDA के विधायकों को फोन पर मंत्री पद का लालच दे रहे हैं लालू यादव', सुशील मोदी ने शेयर किया मोबाइल नंबर

Also Read - Love Jihad पर विवाद, बिहार में उठी कानून बनाने की मांग, महाराष्ट्र ने कहा-हमें जरूरत नहीं

  Also Read - बिहार सरकार ने सभी विभागों से मांगी खाली पदों की डि‍टेल, जल्‍द शुरू होने जा रही हैं भर्ती

बिहार में बाढ़ से मरने वाले 102 लोगों में सीतामढ़ी में 27, मधुबनी में 23, अररिया में 12, शिवहर एवं दरभंगा में 10-10, पूर्णिया में 9, किशनगंज में 5, सुपौल में 3, पूर्वी चंपारण में 2 और सहरसा के एक व्यक्ति शामिल हैं. बिहार के बाढ प्रभावित इन 12 जिलों में कुल 133 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं जहां 114921 लोग शरण लिए हुए हैं . उनके भोजन की व्यवस्था के लिए 776 सामुदायिक रसोई चलाए जा रहे हैं. बाढ़ प्रभावित इलाके में राहत एवं बचाव कार्य के लिये एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 26 टीम, 796 कर्मियों को लगाया गया है तथा 125 मोटरबोट का इस्तेमाल किया जा रहा है.

Bihar Flood: बिहार की प्रमुख नदियों का जलस्तर घटा, संकट बरकरार, 55 लाख लोग प्रभावित

हल्की बारिश की संभावना

केंद्रीय जल आयोग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार की कई नदियां बूढी गंडक, बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, कोसी, महानंदा और परमान नदी विभिन्न स्थानों पर रविवार सुबह खतरे के निशान से ऊपर बह रही थी. मौसम विभाग के अनुसार, बिहार की सभी नदियों के जलग्रहण क्षेत्रों में शुक्रवार की सुबह तक हल्की बारिश की संभावना जतायी गयी है.