बिहार: बिहार में लोकसभा की एक सीट और 5 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं. इस चुनाव में एनडीए को तगड़ा झटका लगा है. एनडीए ने यहां तीन सीटों पर बढ़त बनाई लेकिन सबसे चौंकाने वाली बात रही कि किशनगंज और बेलहर में भाजपा और जदयू के उम्मीदवारों को करारी हार का सामना करना पड़ा है. बिहार विधानसभा उपचुनाव में किशनगंज सीट से असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने जीत हासिल की है. एआईएमआईएम की टिकट पर यहां से कमरूल होदा ने चुनाव लड़ा जिसमें उन्होंने जीत हासिल की है. वहीं बेलहर विधानसभा सीट से राजद के रामदेव यादव ने जीत दर्ज की है.

आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र विधानसभा में एंट्री मारने के बाद ओवैसी ने अब बिहार विधानसभा में एंट्री मार ली है. किशनगंज से भाजपा की उम्मीदवार स्वीटी सिंह को कमरूल होदा ने मात दे दी है. जाहिर है यह सीमांचल की राजनीति में बड़े उलटफेर के संकेत हैं. इस जीत के साथ असदुद्दीन ओवैसी अब बिहार में अपनी पार्टी की जड़े जमाने की तैयारी में लग चुके होंगे.

साल 2019 लोकसभा चुनावों के दौरान इस बात के संकेत मिल चुके थे कि आने वाले वक्त में बिहार में AIMIM एक नई पार्टी रूप के उभर सकती है. लोकसभा चुनावों के दौरान पार्टी ने किशनगंज क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन किया था. इसके ठीक बाद ही ओवैसी ने इस बात का संकेत दे दिया था कि उनकी पार्टी बिहार की राजनीति में एंट्री करने वाली है.