Bihar cabinet: बिहार में विधानसभा चुनाव में अब कुछ ही महीने बचे हैं, इससे पहले मंगलवार को हुई नीतीश सरकार की कैबिनेट की बैठक में कुल 61 एजेंडों पर मुहर लगी और 9500 करोड़ रुपये से अधिक राशि खर्च करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की अध्यक्षता में हुई इस मीटिंग में कई अहम फैसले लिए गए. Also Read - Bihar Election 2020: जेल में बंद बाहुबली आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद ने थामा RJD का दामन

नीतीश कैबिनेट की बैठक के अहम फैसले…. Also Read - School Reopening News: इस राज्य में आज से खोले गए स्कूल, इन नियमों का रखना होगा खास ध्यान...

-आरा जीरो माइल में नया मेडिकल कॉलेज बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई. Also Read - JDU में शामिल हुए बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे, CM नीतीश कुमार के आवास पर ली पार्टी की सदस्यता

-जम्मू-कश्मीर के बारामूला आतंकवादी हमले में शहीद सैनिकों के परिजनों को नौकरी देने का प्रस्ताव मंजूर

– कोविड महामारी से लड़ने के लिए 453 करोड़ की राशि स्वीकृत की.

-मिड डे मिल लाभुकों के खाते में राशि भेजे जाने का भी फैसला किया गया. इसके तहत 151 करोड़ रुपये DBT करने पर मंजूरी दी गई.

-बिजली बोर्ड के कर्मियों के अन्फंडेड टर्मिनल बेनिफीट भुगतान के लिए 757 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई.

-बाढ़ को लेकर कंटिजेंसी फण्ड में 1500 करोड़ रुपये, कोविड महामारी की जागरूकता फैलाने के लिए आपदा प्रबंधन विभाग को 645 करोड़ रुपये खर्च करने की प्रशासनिक मंजूरी को हरी झंडी दी गई.

-बालू घाटों की बन्दोबस्ती को भी एक्सटेंशन दिया गया है. यह विस्तार 31 दिसम्बर 2020 तक के लिए मिला है.

-SAP जवानों को अगले अगले 5 साल के लिए सेवा विस्तार प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई.

-मधेपुरा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में 356 पदों का सृजन को मंजूरी दी गई.

-100 MBBS पोस्ट सेंक्शन को स्वीकृति दी गई.

-पारा मेडिकल कालेजों में 1235 नए पदों का सृजन किया गया है.

-पावापुरी नालन्दा मेडिकल कॉलेजों में 540 नए पदों का सृजन किया गया है.

-बेतिया मेडिकल कॉलेज में 539 नए पदों का सृजन किया गया है.

-इसके साथ ही कैबिनेट ने बिहार विधानमंडल का सत्रावसान के लिए CM को अधिकृत किया है.