पटना: बिहार में बारिश और वज्रपात का सिलसिला जारी है. पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के अलग-अलग सात जिलों में आसमानी बिजली गिरने (वज्रपात) से और 15 लोगों की मौत हो गई. आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान आसमान से बिजली गिरने से 15 लोगों की मौत हो गई. वैशाली में छह, लखीसराय में दो, समस्तीपुर में तीन तथा गया, बांका, नालंदा और जमुई जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत वज्रपात की चपेट में आने से हो गई. Also Read - बिहार चुनाव में अहम भूमिका निभा सकते हैं देवेंद्र फडणवीस, क्‍या सुशांत सिंह राजपूत फैक्‍टर काम करेगा

मौसम विभाग ने राज्य के पटना, भोजपुर, वैशाली, नालंदा सहित एक दर्जन से ज्यादा जिलों में वज्रपात को लेकर अलर्ट जारी किया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी लोगों से खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतने तथा खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का अनुपालन करने की अपील की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि खराब मौसम में घर के अंदर ही रहें और सुरक्षित रहें. Also Read - Bihar Flood: बिहार में बाढ़ से जनजीवन प्रभावित, इन जिलों में हालत खराब

इससे पहले, राज्य में गुरुवार को भी विभिन्न जिलों में वज्रपात की चपेट में आने से 26 लोगों की मौत हुई थी. पटना में छह, पूर्वी चंपारण में चार, समस्तीपुर में सात, कटिहार में तीन, शिवहर व मधेपुरा में दो-दो तथा पूर्णिया और पश्चिमी चंपारण जिले में एक-एक व्यक्ति की वज्रपात से मौत हो गई थी. इससे भी पहले, मंगलवार को बिहार के विभिन्न जिलों में वज्रपात से 11 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 26 जून को राज्य में वज्रपात की चपेट में आने से 96 लोगों की मौत हुई थी. Also Read - बिहार में बाढ़ से स्थिति बदहाल, बुरा है इन 16 जिलों का हाल, 75 लाख से ज्यादा आबादी प्रभावित

(इनपुट आईएएनएस)