Bihar 2nd Phase Election 2020: बिहार विधानसभा के दूसरे चरण की वोटिंग से पहले गुरुवार को इनकम टैक्स की टीम ने अबतक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है. टीम ने गुरुवार को नल जल योजना  में शामिल एजेंसियों के खिलाफ एक साथ पटना, हिलसा, भागलपुर, पूर्णिया, कटिहार और गया में सरकारी काम करने वाले ठेकेदारों और स्टोन चिप्स कारोबारियों के यहां चार सर्च और आठ सर्वे की कार्रवाई की. टीम ने छापेमारी के दौरान करोड़ों रुपए कैश, ज्वेलरी, करोडों की संपत्ति के दस्तावेज बरामद किए हैं.टीम की छापेमारी शुक्रवार को भी जारी है.Also Read - चिराग पासवान ने 'जहरीली शराब' को लेकर राज्यपाल को लिखी चिट्ठी, बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की

नल-जल योजना में शामिल एजेंसी के मालिकों पर हो रही सर्च और सर्वे की कार्रवाई  Also Read - Bihar Police Fireman 2021 : 2380 पदों के लिये CSBC फायरमैन परीक्षा की तारीख जारी, यहां देखें नोटिस

बता दें कि चुनाव प्रक्रिया के बीच आयकर विभाग की टीम लगातार सर्च व सर्वे की कार्रवाई कर रही है. इससे पहले भी टीम ने हाल के दिनों में कई कार्रवाई कर चुकी है. इसी क्रम में गुरुवार को भी टीम ने बिहार के विभिन्न शहरों में सर्च और सर्वे किया, जिसमें टीम ने पटना में गणाधिपति कंस्ट्रक्शन एजेंसी के मालिक जर्नादन प्रसाद के पांच ठिकानों पर सर्च की कार्यवाही की. Also Read - बिहार: सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 50 और प्राइवेट में 300 सीटें बढ़ीं, कब से होगा लागू, जानें

कहां-कहां हुई कार्रवाई, जानिए

विभागीय सूत्रों की मानें तो फ्रेजर रोड, दीघा, कदमकुआं, हनुमान नगर स्थित कार्यालय, आवास और फैक्ट्री पर जांच-पड़ताल में आयकर टीम को काफी नकदी, करोड़ों के लेनदेन के साथ ही बैंकों के अलावा विभिन्न बचत योजनाओं में निवेश और करोड़ों की संपत्ति के कागजात मिले हैं.

वहीं, टीम ने नालंदा इंजीकॉन प्राईवेट लिमिटेड के पटना और हिलसा स्थित नौ ठिकानों पर टीम ने तलाशी ली. ये दोनों एजेंसी राज्य सरकार के विभिन्न विभागों की कई योजनाओं का काम करती हैं जिसमें नल-जल योजना भी शामिल है.

आयकर टीम ने भागलपुर, पूर्णिया और कटिहार में भी अलग-अलग स्थानों पर दो सरकारी ठेकेदारों के यहां सर्च किया. भागलपुर व पूर्णिया में आयकर टीम को तलाशी के दौरान 50 लाख से अधिक की नकदी देर शाम तक मिल चुकी थी. टीम को इसके यहां से ज्वेलरी, जमीन और बचत योजनाओं में निवेश के दस्तावेज मिले हैं. उसके अलावा गया में स्टोन चिप्स के आठ कारोबारियों के यहां अलग अलग स्थानों पर सर्वे की कार्यवाही की गई है.

शनिवार को भी जारी रहेगी कार्रवाई

अधिकारियों का कहना है कि आयकर टीम को मिले दस्तावेजों का आकलन हो रहा है. इसी के बाद पता चल सकेगा कि सर्च व सर्वे में कितने करोड़ की संपत्ति, नकदी,ज्वेलरी व जमीन के कागजात मिले हैं. इसके लिए सर्च व सर्वे का काम शुक्रवार को जारी रहेगा. संभावना जताई जा रही है कि कुछ कंपनियों के खिलाफ शनिवार को भी तलाशी का काम जारी रह सकती है.