Bihar Assembly Election 2020: पटना (Patna) के बांकीपुर विधानसभा सीट (Bankipur assembly seat)  पर इस बार के चुनाव में जोरदार घमासान मचने वाला है. यहां दो महिला उम्मीदवार भाजपा के निवर्तमान नेता नितिन नवीन को जहां बड़ी चुनौती देनेवाली हैं तो वहीं कांग्रेस के टिकट पर इसी सीट से बॉलीवुड अभिनेता और बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा भी चुनावी मैदान में होंगे Also Read - Bihar Assembly Election 2020: रिहर्सल करते चिराग पासवान का वीडियो हुआ वायरल, विपक्ष ने साधा निशाना

बांकीपुर विधानसभा सीट से अपनी नई नवेली ‘द प्लूरल्स पार्टी प्लुरल्स (Plurals) की उम्मीदवार पुष्पम प्रिया चौधरी (Pushpam priya chaudhary) ने अपना नामांकन किया है तो वहीं  पूर्व भाजपा नेत्री और राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य रह चुकी सुषमा साहू (Sushma sahu) ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में इसी सीट से नामांकन कर दिया है. ये दोनों महिला उम्मीदवार भाजपा (BJP)के निवर्तमान विधायक नितिन नवीन (Nitin navin) को टक्कर देंगी. इस सीट से कांग्रेस के टिकट पर शत्रुघ्न सिन्हा (shtrughn sinha) के बेटे लव सिन्हा के उतरने की भी चर्चा है. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: बिहार में 71 सीटों पर मतदान आज, पूर्व CM मांझी सहित 1066 प्रत्याशियों के भविष्य का होगा फैसला

अखबारों में विज्ञापन के रास्ते राजनीति में प्रवेश करने वाली और अपने आपको बिहार का भावी मुख्यमंत्री कहने वाली पुष्पम प्रिया चौधरी बांकीपुर से चुनाव लड़ने को तैयार हैं और उन्होंने आज ही अपना नामांकन दाखिल किया है. सोशल मीडिया पर लगातार चर्चित रहने के बावजूद सार्वजनिक जगहों पर पुष्पम प्रिया चौधरी को कभी नहीं देखा गया. अक्सर वह दूरदराज के इलाकों में तस्वीरों में ही नजर आती रही हैं और मिथिला की खोईंछा संस्कृति के साथ चुनाव मैदान में हैं. Also Read - Bihar Assembly Election 2020 : 'बाबू साहब' के बयान पर घिरे तेजस्वी यादव ने दी सफाई, बोले- बड़का बाबू, छोटका बाबू कौन है

भाजपा नेत्री और राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य रहीं सुषमा साहू काफी तेज तर्रार महिला नेत्री मानी जाती हैं. वे बिहार प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं. जब केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनी तो इनको राष्ट्रीय महिला आयोग का सदस्य बनाया गया था. उसके बाद अब उन्होंने बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने के लिए निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन भरा है. वैश्य समाज से आने वाली सुषमा साहू भाजपा नेता पर ही भारी पड़ सकती हैं.

बात करें महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस की तो पार्टी ने इस बार बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र से शत्रुघ्न सिन्हा के बड़े बेटे लव सिन्हा को चुनावी मैदान में उतार सकती है. लव सिन्हा के राजनीतिक कैरियर की यदि बात करें तो उनकी पहचान शत्रुघ्न सिन्हा से है और इसके अलावा उनकी दूसरी कोई पहचान नहीं है.