पटना: बिहार भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ की तरफ से चुनाव प्रचार रथ गुरुवार को पटना से रवाना किया गया. रथ को भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री और बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने हरी झंडी दिखा कर रवाना किया. इस रथ में कथित जंगलराज की तस्वीर दिखाते हुए राजग के शासन काल से उसकी तुलना की गई है. रथ में लगाई गई तस्वीरों के माध्यम से जंगलराज के उस समय को लोगों को याद दिलाने की कोशिश की गई. हत्या, अपहरण, लूटपाट, डकैती, रंगदारी और वसूली उद्योग के प्रतीकात्मक पोस्टर लगाए गए हैं. Also Read - 'राजस्थान में फिर शुरू होने वाला है सरकार गिराने का खेल', CM गहलोत बोले- हमारे विधायकों को बैठाकर चाय-नमकीन खिला रहे अमित शाह

इस मौके पर भाजपा नेता भूपेंद्र यादव ने कहा कि यह रथ पूरे बिहार में जंगल राज के उस 15 साल को याद दिलाएगा जिसमें व्यापारी या तो बिहार से बाहर चले गए या फिर व्यापार छोड़ने पर मजबूर हो गए. उन्होंने कहा, “जंगलराज से अगर कोई सबसे ज्यादा प्रताड़ित हुआ था तो वो व्यापारी वर्ग ही था जिसने जंगल राज की असली तस्वीर देखी है. कोई भी सप्ताह ऐसा नहीं बितता था जब व्यापारियों की हत्या या अपहरण नहीं होता था. व्यापार करने के लिए उनसे रंगदारी वसूली जाती थी और नहीं देने पर उनका या उनके परिवार का अपहरण कर लिया जाता था.” Also Read - Farmers Protest: 5वें दौर की वार्ता में क्या आज होगी आर-पार की बात! किसानों ने दी है बड़ी धमकी

उन्होंने कहा कि यह रथ लोगों को जंगल राज की याद दिलाएगा और बदले बिहार की तस्वीर भी जनता के सामने रखेगा. उन्होंने दावा करते हुए कहा, “आज न व्यापारियों में डर है न किसी की बात चिंता क्योंकि अब कानून और सुशासन का राज है. उस जंगल राज को बिहार पीछे छोड़ चुका. बिहार अब राजग के साथ सुरक्षित, उन्नत और समृद्ध है. बिहार के लोगों अब सुशासन के साथ जीने की आदत हो गई है अब उन्हें फिर से वापस ‘जंगलराज’ नहीं चाहिए.” Also Read - Hyderabad Election Result 2020: हैदराबाद नगर निगम चुनाव में बजा बीजेपी का डंका, टीआरएस को फिर मिली सत्ता

इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी संजय मयूख, प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश वर्मा, अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री अब्दुल रहमान, प्रदेश प्रवक्ता डॉ. रामसागर सिंह, अरविंद सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी राकेश कुमार सिंह तथा अशोक भट्ट मौजूद रहे.