Bihar Assembly Election 2020: बिहार में जदयू और लोजपा के बीच चल रही अनबन पर कांग्रेस ने नहला फेंका है और लोजपा सुप्रीमो चिराग पासवान को महागठबंधन में आमंत्रित किया है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को रामविलास पासवान और चिराग पासवान को अपने पुराने घर लौटने का न्योता दिया है. Also Read - एमपी के गृहमंत्री ने कहा- "मैं मास्क नहीं पहनता", कांग्रेस ने पूछा-"क्या कायदे बस आम लोगों के लिए हैं?"

शिवहर और सीतामढ़ी जिला के बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेताे दिग्विजय सिंह ने कहा कि अब उन्हें अपने पुराने साथियों संग लौट आना चाहिए. उन्होंने कहा कि ईश्वर से प्रार्थना है कि उन्हें सद्बुद्धि दे और वे बिहार के अवसरवादी और देश की सांप्रदायिक ताकतों को हराने में कांग्रेस और महागठबंधन का साथ दें. सिंह ने कहा कि मुस्लिमों को बांटने के लिए ओवैसी की पार्टी का भाजपा से गुप्त गठजो़ड़ है. Also Read - मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठ बोला, सच सामने आया: राहुल गांधी

दिग्विजय सिंह ने कहा कि भाजपा का तो लोकतंत्र में कोई विश्वास ही नहीं है मगर नीतीश कुमार ने भी जनादेश का अपमान किया है. उन्होंने  कहा कि वे जेपी आंदोलन की उपज हैं मगर आज उन्हें विचारधारा नहीं सिर्फ कुर्सी से मतलब है. 2015 में राजद के सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद वायदे के अनुरूप नीतीश कुमार मुख्यमंत्री बनाए गए. फिर भी वे उसी भाजपा के साथ चले गए जिसके खिलाफ चुनाव जीते थे. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: अब कुशवाहा ने भी पकड़ी मांझी की राह, करेंगे बड़ा ऐलान

दिग्विजय सिंह ने कहा कि राहुल गांधी की कोरोना और चीन के संबंध में कही गई सारी बातें सच निकलीं. सरकार उनकी बात पर ध्यान देती तो महामारी इतना विकराल रूप नहीं लेती. राज्य की जनता अब 15 साल से सत्ता में बैठी मौजूदा सरकार से मुक्ति चाहती है.