Bihar Assembly Election 2020: बिहार में चल रही सियासी हलचल के बीच महागठबंधन से नाराज चल रहे हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) सुप्रीमो जीतनराम मांझी के लिए बड़ा दिन है. टेलीफोन के बदले मांझी की पार्टी को आज नया चुनाव चिह्न मिलने वाला है और मांझी के जदयू में जाने की संभावनाओं पर भी आज विराम लगने वाला है. आज जीतनराम मांझी आधिकारिक रूप से नीतीश कुमार का दामन थाम लेंगे और जदयू में शामिल होने की औपचारिक घोषणा करेंगे.Also Read - Bihar CM नीतीश कुमार भी गांजा पीते थे, RJD विधायक ने लगाया विवादास्पद आरोप

वैसे जीतनराम मांझी के जदयू में शामिल होने की चर्चा काफी दिनों से चल रही है. लेकिन हम पार्टी के कार्यकर्ताओं को जदयू से गठबंधन में शामिल होने के बाद पार्टी के विलय की आशंका सता रही है. इसे लेकर पिछले दो दिनों से विभिन्न जिलों से कार्यकर्ता मांझी से मिलने आ रहे हैं और पार्टी का जदयू में विलय नहीं करने का दबाव बना रहे हैं. Also Read - Funny Video: दुल्हन पर फीमेल रिपोर्टर ने लड़कों से पूछे सवाल, पर मिले ऐसे जवाब पेट पकड़कर हंसेंगे | देखिए मजेदार वीडियो

जदयू में हम का विलय नहीं करेंगे जीतनराम मांझी Also Read - Lalu Yadav का दिखा दबंग अवतार, जब पटना की सड़कों पर अकेले जीप लेकर निकले लालू, देखें Video

पार्टी सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक हम ने कह दिया है कि जदयू के साथ पार्टी का विलय नहीं होगा. इसे लेकर कार्यकर्ताओं की आशंकाओं को पार्टी नेतृत्व ने सिरे से खारिज कर दिया है. साथ ही ये भी कहा है कि जदयू से गठबंधन के बाद ही सीट शेयरिंग की बात होगी.

जानकारी के मुताबिक अगर मांझी की पार्टी का जदयू से गठबंधन होता है तो वो 16 सीटों की मांग करेंगे, हालांकि ये भी तय है कि सीटों की संख्या में कुछ जोड़-घटाव हो सकता है. ये हम की कोर कमेटी की बैठक में तय होगा.

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा का अब बदल जाएगा चुनाव चिह्न टेलीफोन
हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने मंगलवार को कार्यकर्ताओं की वर्चुअल बैठक में बताया कि पार्टी का चुनाव चिह्न टेलीफोन अब बदल जाएगा और नया चुनाव चिह्न मिलेगा.  उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के नियमानुसार दो चुनावों में 4% वोट नहीं मिलने और कम से कम 2 उम्मीदवार नहीं जीतने के कारण यह चुनाव चिन्ह बदला जा रहा है.