Bihar Assembly Election 2020: लालू को फिर एक विधायक ने झटका दिया है और उसने नीतीश का हाथ थाम लिया है. तेघड़ा से राजद के विधायक विरेंद्र कुमार सिंह मंगलवार को जदयू में शामिल हो गए हैं. पार्टी कार्यालय में जदयू सांसद ललन सिंह ने राजद विधायक को जदयू की सदस्यता दिलाई।Also Read - बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने कहा, मोदीजी, 15 दिन के लिए जम्मू-कश्मीर बिहारियों को सौंप दीजिए, फिर देखिए

जदयू में शामिल होते ही लालू के राजद विधायक ने जदयू के नीतीश कुमार की जमकर तारीफ़ की और कहा कि उनके विकास से प्रभावित होकर मैं जदयू में शामिल हुआ हूं. बता दें कि राजद के अबतक सात विधायक और पांच एमएलसी जदयू में शामिल हो चुके हैं. जानकारी यह भी मिल रही है कि अभी कई और राजद विधायक जदयू के सम्पर्क में हैं. Also Read - Aryan Khan Drugs Case का बिहार कनेक्शन, मोतिहारी जेल में मुंबई पुलिस-NCB को मिला सुराग, जानिए

ललन सिंह ने कहा कि बजार में सबसे कम बिकता है, वो प्रोडक्ट राजद है. राजद  ऐसे ही  विज्ञापन बना रही है. टिकट में नगद नारायण के लिए ऐसा किया जा रहा है. इसी बहाने कुछ धन बन जायेगा. परिणाम के बारे में राजद के नेता भी जानते हैं. राजद में कोई कहीं से भी आता है, टिकट ले लेता है. मुंबई और कोलकाता से आता है, टिकट पा जाता है. जनता मौका आने पर जवाब दे देती है. Also Read - पटना में चर्चित मॉडल मोना राय को बाइक सवार हमलावरों ने गोली मारी, क्‍या मर्डर का है बिहार के टॉप नेताओं से कनेक्‍शन?

इससे पहले भी ललन सिंह ने शनिवार को कहा था कि राजद में भगदड़ मची है, बैरियर खोल देंगे, तो पार्टी खत्म हो जाएगी. राजद के तमाम नेता पार्टी छोड़ने की तैयारी में हैं कब कौन आएगा इसका इंतजार है.

बता दें कि इससे पहले राजद विधायक प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव, अशोक कुमार, चंद्रिका राय, फराज फातमी, जयवर्धन यादव जैसे राजद के कद्दावर नेता अब पार्टी का साथ छोड़ चुके हैं तो वहीं पांच एमएलसी- दिलीप राय, राधा चरण सेठ, संजय प्रसाद, कमरे आलम और रणविजय सिंह ने भी पाला बदल जेडीयू का दामन थाम लिया है.